शिक्षा विभाग का मनोविज्ञान ‘कल की कल देखेंगे’

मुंबई, ठाणे, पालघर, नई मुंबई व आसपास के क्षेत्रों में रविवार रात से ही मूसलाधार बारिश हो रही है। मौसम विभाग की माने तो आनेवाले ४८ घंटे में भी मूसलाधार बारिश हो सकती है। ऐसे में अभिभावक परेशान हैं कि स्कूल बंद रहेंगे या नहीं? अभिभावकों की इसी दुविधा को दूर करने के लिए जब शिक्षा मंत्री के पीए गोविंद येतेकर से पूछा गया कि क्या वार्निंग को देखते हुए स्कूलों में मंगलवार को छुट्टी दी जाएगी? तो उन्होंने कहा ‘कल का कल देखा जाएगा।’ शिक्षा विभाग का यह मनोविज्ञान देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि आज अभिभावक को खुद ही जिम्मेदारी लेते हुए तय करना है कि वे अपने बच्चों को स्कूल भेजे या नहीं?
बता दें कि एमएमआर क्षेत्र में बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है। कई क्षेत्रों में बारिश अधिक होने के कारण जलजमाव भी देखा गया जिससे यातायात सेवाएं भी काफी प्रभावित हुर्इं। क्षेत्रीय मौसम विभाग ने बारिश को लेकर कल रेड अलर्ट जारी किया है। मनपा आपातकालीन व्यवस्थापन कक्ष, बेस्ट, मध्य व पश्चिम रेलवे और सरकार को भी भारी बारिश के बारे में सूचित किया गया है। ऐसे में अभिभावक दुविधा में हैं कि उन्हें जोखिम लेते हुए स्कूल भेजना है या नहीं? ट्विटर पर लोगों ने मंत्री विनोद तावड़े से पूछा कि अलर्ट जारी होने के बावजूद स्कूल खुले रहेंगे या बंद? शिक्षा मंत्री की ओर से फिलहाल किसी प्रकार की प्रतिक्रिया नहीं आई है। शिक्षा मंत्री के पीए गोविंद येतेकर से जब पूछा गया कि कल स्कूल खुले रहेंगे या बंद तो उन्होंने कहा ‘कल का कल देखा जाएगा’ बारिश कैसी होती है इस पर निर्भर है। शिक्षा विभाग का यह रवैय्या अभिभावकों की चिंता बढ़ा रहा है।