शिखर हुआ फेल

ये केवल ओपनर शिखर धवन की बात नहीं है बल्कि टीम का ही शिखर फेल हो गया। धड़ाधड़ ४ रन पर तीन विकेट का गिर जाना कंगारुओं के बड़े लक्ष्य का पीछा  कठिनतम बना देनेवाला रहा। २८८ रनों के विशाल पर्वत पर चढ़ाई इतनी बेकार होगी, ऐसी कल्पना भी नहीं थी। शिखर धवन आते ही पहली गेंद पर लौट गए तो कोहली भी कुछ नहीं कर सके और अंबाती रायडू भी शिखर की तरह शून्य पर लौटे। पहले वन डे मैच में शिखर यानी ओपनिंग की ये कमजोरी संभव है आनेवाले मैचों में दूर हो सकेगी। ऑस्ट्रेलिया के लिए ये मैच ऐतिहासिक था क्योंकि इसमें वो अपने पुराने ड्रेसअप में थी। उसने वो ड्रेस पहनी थी जो बॉर्डर के जमाने में टीम पहना करती थी। बहरहाल, कंगारू टीम की ओर से उस्मान ख्वाजा, शान मार्श, पीटर हैंड्सकांब और स्टोनिस ने बढ़िया पारी खेली जिनकी बदौलत टीम इंडिया को २८८ रनों का लक्ष्य दिया। ख्वाजा जहां ५९ रनों पर आउट हुए वहीं मार्श ५४ रनों पर तो पीटर ने सबसे ज्यादा ७३ रन बनाए और स्टोनिस ने नाबाद ४७ रन का योगदान दिया। टीम इंडिया की ओर से गेंदबाजी में भुवनेश्वर और कुलदीप यादव ने दो-दो विकेट लिए बाकी १ विकेट रवींद्र जडेजा के खाते में गया।