शिवसेना का सहायता यज्ञ! शिरोल… हातकणंगले… इचलकरंजी में मदद से पहुंचाई राहत

१० घंटे मैराथन मेडिकल कैंप
१५ हजार कोल्हापुरवासियों का किया उपचार
ठाणे के १०० डॉक्टरों की टीम का कार्य

कोल्हापुर जिले में बाढ़ से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। ऐसी परिस्थिति में कोल्हापुरवासियों के लिए शिवसेना ने डॉक्टरों के दल को भेजकर मदद का हाथ बढ़ाया है। सुबह १० बजे से लेकर रात ८ बजे तक  शिरोल, हातकणंगले और इचलकरंजी में १० घंटे का मैराथन मेडिकल कैंप शुरू कर दिया गया है। शिवसेना सांसद श्रीकांत शिंदे के मार्गदर्शन में १०० डॉक्टरों की टीम लोगों का उपचार कर रही है। वैद्यकीय टीम द्वारा केवल २ दिनों में १५ हजार से ज्यादा नागरिकों की जांच करके उनका उपचार किया गया है।
कोल्हापुर में आई भयावह बाढ़ के कारण नागरिकों को डेंगू, कॉलरा, टाइफाइड जैसी बीमारियां होने का डर है। जिसे ध्यान में रखते हुए शिवसेना नेता व स्वास्थ्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने शिवसैनिकों के साथ कोल्हापुर में डिजास्टर मैनेजमेंट शुरू कर दिया है। ठाणे के १०० डॉक्टरों के दल ने कोल्हापुर में लोगों के उपचार के लिए कमान संभाल ली है। सांसद श्रीकांत शिंदे के मार्गदर्शन में घुनकी, जुने चावरे, शिरोली, (तालुका. हातकणंगले), बालिवड़े (ता.करवीर), शिरोली, तानोली, पट्टणकोड़वली, रांगोली, हुपरी, रेंदाल , नांदली(ता. शिरोले) टेकावडे कोची (ता.हातकणंगले), गोविंदराव हाईस्कूल (इचलकरंजी), नाट्यगृह (इचलकरंजीr), इंडस्ट्रीयल इस्टेट (इचलकरंजी) में मेडिकल वैंâप चलाया जा रहा है। इन वैंâपों में स्वास्थ्य सेवा लेने के लिए  कोल्हापुरवासियों की लंबी कतार लगी हुई है। अब तक १५ हजार नागरिकों ने मुफ्त स्वास्थ्य सेवा का लाभ लिया है।
स्वास्थ्य मंत्री ८ दिनों से कोल्हापुर में
कोल्हापुर में पिछले ८ दिनों से स्वास्थ्य मंत्री एकनाथ शिंदे,  शिवसेना सांसद राजन विचारे, विधायक रविंद्र फाटक, कल्याण जिलाप्रमुख गोपाल लांडगे ने मदद कार्य में जी-जान लगा दिया है। बाढ़ग्रस्तों की मदद के लिए १५ ट्रक से १० हजार चादर, कंबल, अन्न, खाद्य तेल, सैनेटरी नैपकिन, टॉवेल इत्यादि भेजा गया है। इस सामग्री को जगह-जगह पर बांटा जा रहा है।