" /> शिवसेना ने बुझाई दिवाकरों की प्यास!

शिवसेना ने बुझाई दिवाकरों की प्यास!

अब मिलेगा अतिरिक्त 10 एमएलडी पानी

दिवा शहर की जनसंख्या लगातार बढ़ रही है। इसकी वजह से दिवा के कुछ भागों में रहने वाले निवासियों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा था। दिवा शहर में पेयजल की आपूर्ति एमआईडीसी के माध्यम से होती है पर इसके नियोजन तथा व्यवस्थापन का काम मनपा द्वारा किया जाता है। पेयजल समस्या के स्थायी समाधान हेतु पालकमंत्री एकनाथ शिंदे तथा सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे प्रयासरत थे। इसके लिए ठाणे मनपा प्रशासन, जलसंपदा विभाग तथा एमआयडीसी विभाग से पत्राचार भी किया जा रहा था। इसी का नतीजा है कि दिवा शहर के लिए अतिरिक्त 10 एमएलडी पानी उपलब्ध हो गया है। यह जानकारी स्थानीय नगरसेवक एवं पूर्व उप महापौर रमाकांत मढ़वी ने दी है।
उल्लेखनीय है कि वर्ष 2017 में दिवा शहर के लिए 21.50 एमएलडी पानी मंजूर किया गया था पर दिवा की बढ़ती हुई आबादी के मद्देनजर 40 एमएलडी पानी की आवश्यकता थी। इसके लिए पिछ्ले वर्ष तत्कालीन जलसंपदा एवं एमआयडीसी विभाग के मंत्री के साथ पालक मंत्री की बैठक हुई थी और 20 एमएलडी पानी दिवा शहर को बढ़ाकर देने का निर्णय हुआ था। 10 एमएलडी पानी उपलब्ध हुआ था पर तकनीकी कारणों के चलते 10 एमएलडी पानी उपलब्ध नही हो पाया था। 10 एमएलडी पानी अब उपलब्ध हो गया है। अब दिवावासियो को पेयजल की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। इसके लिए दिवा प्रभाग समिती अध्यक्ष दिपाली भगत, सभापति-खेल समाज कल्याण व सांस्कृतिक कार्यक्रम समिती अमर पाटील, नगरसेवक शैलेश पाटील, दीपक जाधव, नगरसेविका दर्शना म्हात्रे, सुनिता मुंढे तथा अंकिता पाटील आदि शिवसेना के नगरसेवकों द्वारा लगातार प्रयास किया गया और मढ़वी सहित सभी नागसेवको ने इस सफलता के लिए पालक मंत्री एकनाथ शिंदे तथा सांसद डॉ श्रीकांत शिंदे का अभिनंदन किया है।