" /> श्रमिकों की दुर्भाग्यपूर्ण मौत की खबर बहुत ही व्यथित करनेवाली है – शरद पवार

श्रमिकों की दुर्भाग्यपूर्ण मौत की खबर बहुत ही व्यथित करनेवाली है – शरद पवार

कोरोना काल के दौरान हुए इस हादसे से शरद पवार का दिमाग तड़प उठा …

संभाजीनगर के पास करमाड रेलवे दुर्घटना में हुई मजदूरों की मौत की खबर अतिशय व्यथित करने वाली है। इसके शिवाय कोरोना महामारी के काल में इस घटना में यातना हुई है। ऐसे शब्दों में राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने अपनी भावना व्यक्त की है। इसके साथ ही शरद पवार ने यह भी कहा है कि जो लोग पैदल अपने पैतृक गांव जाना चाहते हैं, उनके सामने मुश्किल सवाल सामने आ गए हैं। यदि असंगठित क्षेत्र का कोई श्रमिक वर्तमान में बेरोजगारी के डर से शहर छोड़ रहा है, तो पहले उसे रोजगार देनेवाले ठेकेदार या मालिक को उसका ध्यान रखना चाहिए। शरद पवार ने सरकार को सलाह दी है कि अगर यह संभव नहीं है तो इसके लिए सूचित किया जाए। उन्होंने यह भी मांग की कि राज्य सरकारों को प्रवासी श्रमिकों के लिए उड़न दस्ता को नियुक्त करना चाहिए और उनके साथ सतत पत्र व्यवहार करना चाहिए और उनकी जरूरतों को ध्यान रखना चाहिए। उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि केंद्र और राज्य सरकारों को एक साथ आना चाहिए और इस मुद्दे को तुरंत हल करना चाहिए।