" />  श्री रामचरितमानस की पुस्तक भेंट कर पीएम का स्वागत करना  चाहते है इकबाल अंसारी

 श्री रामचरितमानस की पुस्तक भेंट कर पीएम का स्वागत करना  चाहते है इकबाल अंसारी

-यही नही इकबाल अपने हाथ से पीएम नरेंद्र मोदी को रामनामी ओढ़नी भी पहनाना चाहते है
-इकबाल अंसारी हमेशा राम मंदिर के पक्ष में और केंद्र की नरेंद्र मोदी प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के पक्ष में बोलते आए हैं

बाबरी मस्जिद के पूर्व पक्षकार इकबाल अंसारी पीएम नरेंद्र मोदी को अयोध्या में राम मंदिर आधारशिला भूमि पूजन कार्यक्रम के आगमन पर उनका स्वागत हिन्दू धार्मिक पवित्र ग्रंथ श्री रामचरितमानस की पुस्तक भेंट कर करना  चाहते है । यही नही इकबाल अपने हाथ से पीएम नरेंद्र मोदी को रामनामी ओढ़नी भी पहनाना चाहते है।  5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 वर्षो बाद अयोध्या की पवित्र धरती पर राम जन्मभूमि में कदम रखने जा रहे है । पीएम नरेंद्र मोदी हनुमानगढ़ी में हनुमान जी सरकार का दर्शन कर अनुमति लेते हुए राम जन्मभूमि में राम मंदिर निर्माण की आधारशिला भूमि पूजन करने वाले है । इस कार्यक्रम में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट लगभग 170 अतिथियों को शामिल होने के लिए पत्र के माध्यम से अयोध्या बुला रहे हैं। वही बाबरी मस्जिद के पूर्व पक्षकार इकबाल अंसारी इस इंतजार में हैं कि राम मंदिर निर्माण की आधारशिला भूमि पूजन कार्यक्रम की वह भी साक्षी बने। इसके लिए राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट उनको भी निमंत्रण भेजें। हालांकि अभी इकबाल अंसारी को किसी भी तरीके का निमंत्रण नहीं मिला है। लेकिन इकबाल अंसारी हमेशा राम मंदिर के पक्ष में और केंद्र की नरेंद्र मोदी प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के पक्ष में बोलते आए हैं । इसलिए उन्होंने प्रधानमंत्री के स्वागत में देश को भाईचारे का संदेश देते हुए एक मुस्लिम होते हुए वह भी बाबरी मस्जिद जैसे मुद्दे के पक्षकार होते रहे होते हुए हिंदू धार्मिक ग्रंथ रामचरितमानस को खरीदे हैं। उसके साथ ही रामनामी ओढनी को भी खरीद कर रखा हुआ है। इन दोनों पवित्र धार्मिक ग्रंथ को वह पीएम नरेंद्र मोदी को अपने हाथ से देने की तमन्ना रखते हैं। इकबाल अंसारी का कहना है कि वह शुरू से ही साधु संतों के साथ रहे हैं और वह सभी धर्मों का आदर करते हैं । उनका विचार है कि धर्म से बड़ा मानव भावना होती है ।वह राम मंदिर निर्माण शुरू होने से बहुत खुश है। उनकी एक बड़ी इच्छा है कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या आए तो उनको भी पीएम मोदी के स्वागत करने का अवसर प्राप्त हो ।