" /> संडे संकल्प… मोटापे-डायबिटीज से बचाता है नाश्ता

संडे संकल्प… मोटापे-डायबिटीज से बचाता है नाश्ता

आज की दौड़भाग वाली जिंदगी में फिट रहना सबसे बड़ी जरूरत और चुनौती है। प्रतिस्पर्धा के चक्कर में लोग अपनी सेहत और खान-पान की ओर पर्याप्त ध्यान नहीं देते हैं। इससे वे जाने अनजाने में कई बीमारियों को न्यौता दे बैठते हैं। इसकी शुरुआत होती है मोटापे से जो कि प्राय: सुबह में सही नाश्ता न करने के कारण भी बढ़ जाता है। जो कि मधुमेह यानी डायबिटीज सहित कई अन्य बीमारियों की वजह बन सकता है।
सेहत का ख्याल रखना आज की तारीख में एक चुनौती बन गया है। इस लिहाज से सुबह का नाश्ता सेहत के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। डॉक्टर्स और डाइटीशियन सुबह का नाश्ता कभी न छोड़ने की सलाह देते हैं लेकिन यह तभी फायदेमंद होगा जब आप इसमें सेहतमंद चीजों को शामिल करेंगे। इसलिए आप कितने भी व्यस्त हों नाश्ता जरूर करें क्योंकि यह ना सिर्फ आपको फिट रखता है बल्कि मोटापा भी कम करता है। ये दिनभर की ऊर्जा प्रदान करता है। एसिडिटी से राहत दिलाता है क्योंकि रातभर सोने के बाद अगर आप सुबह भी कुछ नहीं खाएंगे तो ऐसिड बनने लगती है, जो काफी तकलीफ देती है।
यह आपको मधुमेह के खतरे से बचाता है। शोध बताते हैं कि जो लोग नाश्ता करते हैं उन्हें मधुमेह का खतरा नाश्ता ना करनेवालों की तुलना में कम रहता है। यह आपको मोटापे से बचाता है, जो लोग नाश्ता नहीं करते उनकी वेस्ट लाइन नाश्ता करनेवालों की तुलना में अधिक होती है।
आप भले ही लंच ठीक से ना करें लेकिन नाश्ता अच्छी तरह और हेल्दी करेंगे तो पैâट्स से बचेंगे। दिनभर एक्टिव और एनर्जेटिक रहते हैं, जो लोग नाश्ता करते हैं उनका एनर्जी लेवल अधिक होता है और वो दिनभर एक्टिव बने रहते हैं। उनका पाचन तंत्र संतुलित रहता है। फोकस करने की क्षमता बेहतर होती है, क्रेविंग से बचाता है, जो लोग नाश्ता नहीं करते उन्हें दिनभर में मीठा खाने की, जंक फूड की और चाय आदि की तलब ज्यादा लगती है, जिससे वो अधिक वैâलरीज का सेवन कर लेते हैं और मोटापे का शिकार होने लगते हैं। पौष्टिक नाश्ता आपको दिनभर संतुष्ट रखता है और आप पॉजिटिव व अच्छा महसूस करते हो। यह ध्यान रहे की नाश्ता पौष्टिक होना जरूरी है- फल, ड्राई प्रâूट्स, दलिया, उपमा, पोहा, कॉर्नफ्लेक्स, दूध, प्रâूट जूस, अंकुरित अनाज, दालें, अंडा, पराठे, दही आदि नाश्ता बोरिंग ना हो इसके लिए रोज एक जैसा नाश्ता ना बनाएं। कुछ इक्स्पेरिमेंट करते रहें, कभी सैंडविच, कभी पराठे, कभी अंडा तो कभी इडली, डोसा ट्राई करें।