" /> संपादक के नाम पत्र

संपादक के नाम पत्र

बदरंग न करें होली
मैं ‘दोपहर का सामना’ के माध्यम से मुंबईकरों से अपील करता हूं कि होली रंगों का त्यौहार है। कीचड़ और गुब्बारे फेंककर इसे बदरंग न करें, यह सर्वथा अनुचित है। होली प्यार और भाईचारे का त्यौहार है इसे हुड़दंग से बचाएं, खुशियां बांटे और अबीर, गुलाल से ही होली खेला जाए।
-संदीप उपाध्याय, नालासोपारा
मनचलों पर कार्रवाई करें
मैं ‘दोपहर का सामना’ के माध्यम से यातायात विभाग के अधिकारियों का ध्यान नालासोपारा (पूर्व) की ओर दिलाना चाहता हूं। नालासोपारा (पूर्व) स्थित प्रगति नगर, ओसवाल नगर, लक्ष्मी नगर, मोरेगांव, विजयनगर में सबसे बड़ी समस्या कुछ दुपहिया वाहन चालकों से है। जो तेज रफ्तार से अपनी बाइक बिना लाइसेंस के तेज आवाज के साथ चलाते हुए मटरगस्ती करते प्राय: नजर आते हैं। इनके तेज ध्वनि से स्कूली बच्चों सहित महिलाएं और दुकानदार, राहगीर सभी परेशान हैं। जिससे हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। ऐसा नहीं की यहां पुलिस चौकी नहीं है। प्रगति नगर में भी चौकी है पर मामला इनके संज्ञान में नहीं है। मेरा यातायात और पुलिस अधिकारियों से अनुरोध है कि मनचले युवकों पर नकेल कसकर नागरिकों को सुरक्षित भयमुक्त, वातावरण का भरोसा दिलाएं। -प्रेम चौबे, नालासोपारा (पूर्व)
कचरा हटाएं
मैं ‘दोपहर का सामना’ के माध्यम से मनपा अधिकारियों से निवेदन करता हूं कि भिंडी बाजार में धरमशी लेन के पास कचरे का टीलानुमा ढेर पड़ा है, जिसे हटाने का इंतजाम किया जाए। लगता है कि सफाईकर्मी भी धरमशी लेन के पास झाड़ू नहीं लगाते हैं क्योंकि जगह-जगह कचरा जमा रहता है।
– सुधीर आर. अग्रवाल, मुंबई