सनसनीखेज गोल

हिंदुस्थानी फुटबॉल में एक सनसनीखेज रिकॉर्ड बना। लुधियाना में खेले जा रहे इंडियन वीमन लीग में गोकुलम केरल एफसी की अंजू तमांग १४ वें सेकंड में गोल कर सबसे तेज गोल करनेवाली हिंदुस्थानी महिला फुटबॉलर बन गईं। वैसे इससे पूर्व हिंदुस्थानी फुटबॉल में सबसे जल्द गोल करने का रिकॉर्ड पुणे एफसी के जेम्स मोगा के नाम है। २०१२ में आईलीग फुटबॉल के दौरान यूनाइडेट सिक्किम के खिलाफ मोगा ने १०वें सेकंड में ही गोल कर सनसनी फैला दी थी। इससे पूर्व यह रिकॉर्ड हिंदुस्थानी फुटबॉल टीम के सदस्य रहे केरल के आईएम. विजयन के नाम था। उन्होंने १९९९ में साउथ एशियन फुटबॉल में भूटान के खिलाफ मैच के १२वें सेकंड में ही गोल किया था। हालांकि किसी अंतरराष्ट्रीय मैच में आधिकारिक रूप से सबसे तेज गोल करने का रिकॉर्ड डेविड गुवालटियरी (८.३ सेकंड) के नाम है जबकि फीफा वर्ल्ड कप में सबसे तेज गोल (११ सेकंड में) करने का कारनामा तुर्की के हैकेन सुकुर ने २००२ में किया था। महिला फुटबॉल में तेज गोल करने का रिकॉर्ड नॉर्दन आयरलैंड की सिमोन मेगिल के नाम है। उन्होंने २०१६ में जॉर्जिया के खिलाफ मैच के ११वें मिनट में ही गोल दाग दिया था। वैसे, किसी भी स्तर के फुटबॉल मैच में सबसे जल्द गोल करने का रिकॉर्ड दो सेकंड का है। हालांकि यह आधिकारिक समय नहीं है। इस पर विवाद भी है।