" /> सफल रहा जनता कर्फ्यू, कोरोना से युद्ध का ‘शंखनाद’

सफल रहा जनता कर्फ्यू, कोरोना से युद्ध का ‘शंखनाद’

• साकेत ट्रेन में मिला एक कोरोना संदिग्ध, सैनिटाइज हुआ रेलवे स्टेशन

पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलों में कोरोना के विरुद्ध रविवार को युद्ध का शंखनाद हो गया है। लोगों ने पीएम मोदी के जनता कर्फ्यू के एलान का स्वागत किया और इसे सफ़ल बनाया। सिर्फ इतना ही नहीं शाम को ५ बजे कोरोना से जंग में जुटे कर्मवीरों का भी थाली-ताली -कटोरी और घंटे घड़ियाल बजाकर अभिनंदन और कृतज्ञता भी प्रदर्शित की गई।
अवध क्षेत्र के सुलतानपुर जिले में बीती रात १२ बजे से ही लॉकडाउन सी स्थिति रही। सड़कों पर आनाजाना थम गया और सुबह ७ बजे से जनता कर्फ्यू के प्रभावी होने के बाद १०० प्रतिशत बंदी देखी गई। इस बीच डीएम सी इंदुमती व एसपी शिवहरि मीणा ने साकेत एक्सप्रेस में ५०० यात्रियों के होने की सूचना पर स्थानीय स्टेशन पर ही रुकवा लिया। सभी का चेकअप किया गया। एक कोरोना संदिग्ध मिलने पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। साथ ही रेलवे स्टेशन को भी सैनिटाइज किया गया। इसके बाद अमहट जिला कारागार का भी जिलाधिकारी ने मुआयना किया। बंदियों के लिए मास्क व सैनिटाइजर की उपलब्धता को परखा। लंभुआ, कोइरीपुर, कादीपुर, कूरेभार आदि कस्बों में भी कर्फ्यू सफल रहा। अमेठी के मुख्यालय गौरीगंज व मुसाफिरखाना, जगदीशपुर, औद्योगिक क्षेत्र, रामगंज व जायस आदि स्थानों पर भी कर्फ्यू कामयाब रहा। प्रतापगढ़ व अम्बेडकरनगर में डीएम-एसपी के नेतृत्व में टीमें निकलीं। लोगों को घरों में ही रहने का संदेश दिया।

शाम को शंखनाद व बजी थालियां

घर-घर की अटारियों पर पीएम मोदी के आह्वान पर लोगों ने कोरोना के कर्मवीरों के लिए जमकर घंटे घड़ियाल बजाए। जिसे जो मिला वो ही बजाता दिखा। दरियापुर में तो लोगों ने भावातिरेक होकर पटाखे भी छुड़ाए । चौक, घंटाघर, मेजरगंज, सिविल लाइन, गोलाघाट, सीताकुंड आदि स्थानों पर लोगों ने वर्दीधारियों का अभिनंदन किया।
दर्शन करने निकल पड़े लोग, पुलिस ने किया नियंत्रित
सुल्तानपुर के सीताकुण्ड तट पर तो लोग घंटे घड़ियाल व शंखनाद के बाद गोमती तट पर दर्शन करने को चल पड़े। पता चला तो पुलिस टीम ने उन्हें नियंत्रित किया।