" /> समुद्र में पलटी नांव : 3 मछुआरे बचे

समुद्र में पलटी नांव : 3 मछुआरे बचे

भाइंदर पश्चिम के उत्तन में मछली पकड़ने का जाल खरीदने आए तीन मछुआरों की एक नांव चौक के पास समुद्र में अचानक पलट गई। इस हादसे की जानकारी मिलते ही नांव में सवार तीनों मछुआरों को स्थानीय मछुआरों और मीरा भाइंदर मनपा के उत्तन विभाग के दमकलकर्मियों ने डूबने से बचा लिया।

रविवार दोपहर को वसई किला के पास स्थित जेट्टी से कोलीवाड़ा निवासी नाजरथ मन्या (६१) के नांव से उनका लड़का संदेश मन्या (३४) व रूपेश बानकुले (२६) भाइंदर पश्चिम के उत्तन में मछली पकड़ने का जाल खरीदने के लिए आए थे। वसई की तरफ वापस लौटते समय चौक के पास समुद्र में तेज हवा से उठी लहर का पानी उनके नांव में भर गया। जिससे नांव का इंजन बंद हो गया और अचानक नांव का संतुलन बिगड़ने से वह डूब गया। लहर इतनी तेज थी कि नांव में सवार तीनों मछुआरे समुद्र में दूर जा गिरे। इस हादसे को चौक के समुद्र किनारे खड़े कुछ लड़के देख रहे थे। उन्होंने शीघ्र इसकी जानकारी स्थानीय मछुआरों और उत्तन अग्निशमन केंद्र के दमकलकर्मियों को दी। सूचना मिलते ही लीडिंग फायरमैन रविंद्र पाटील, राजेश मुकादम, फायरमैन कमलाकर लोंडे, वासुदेव भोईर ,यंत्र चालक प्रदीप पाटील ने स्थानीय मछुआरों की मदद से वसई के उन तीनों मछुआरों को डूबने से बचा लिया। ऐसी जानकारी स्थानीय शिवसेना नगरसेविका शर्मिला बगाजी ने दी।