" /> सरकार ने लिया बड़ा निर्णय : राज्य में फंसे हुए लोगों को लाने के लिए सोमवार से शुरू होगी एसटी बस

सरकार ने लिया बड़ा निर्णय : राज्य में फंसे हुए लोगों को लाने के लिए सोमवार से शुरू होगी एसटी बस

राज्य के विभिन्न जिलों में फंसे लोगों को सोमवार से उनके पैतृक गांवों में जाने के लिए एस टी सेवा कुछ शर्तों के साथ शुरू कर दी जाएगी। यह जानकारी परिवहन मंत्री अनिल परब ने दी। यह
एसटी सेवा कोरोना के कारण लॉकडाउन में विभिन्न जिलों में फंसे लोगों, छात्रों और मजदूरों के लिए होगी। कोरोना प्रतिबंधित क्षेत्र में लोग इसमें यात्रा नहीं कर पाएंगे। ऐसा अनिल परब ने स्पष्ट किया। यदि लाल क्षेत्र के लोग यात्रा करना चाहते हैं, तो उनका परीक्षण किया जाएगा। इसके बाद यात्रा की अनुमति दी जाएगी। महाविकास आघाड़ी सरकार द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार सोमवार से राज्य में फंसे लोगों को गांव छोड़ने के लिए एस टी बस शुरू की जाएगी। इसके लिए एक बस में अधिक से अधिक 22 लोग होंगे। एस टी बस से यात्रा करने वाले शहर के लोगों को यह सूची पुलिस स्टेशन में व गांव जाने वाले लोगों की सूची जिलाधिकारी या तहसीलदार को देनी होगी। इस सूची में मोबाइल नंबर, आधारकार्ड, राज्य में किस स्थान पर जाना है इस संबंध में सभी जानकारी रजिस्टर्ड करानी होगी।।ऐसा परब ने कहा। मुंबई और पुणे रेड जोन में है। इन स्थानों पर लोग यात्रा नहीं कर सकेंगे। रेड जोन में यात्रियों की थर्मल स्क्रिनिंग की जाएगी। उसके बाद यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी। यात्रा के दौरान प्रवासियों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा। ऐसा परब ने बताया।