सर्वेे बड़ा कि खेल

फुटबाल विश्वकप अभी शुरू नहीं हुआ है कि इसकी तासीरफैलने लगी है। कहीं कोई बिल्ला भविष्यवाणी कर रहा है तो कहीं कोई खिलाड़ी। सर्वे भी किया जा रहा है कि कौन होगा विजेता। हालांकि ये सब फिजूल माहौल बनाने जैसा ही है क्योंकि मैदान में जिसकी ठोकर दमदार होगी उसके कदमों में ही होगी ये दुनिया। ठोकर किसकी दमदार है? ये बात समझ लीजिए कि विश्वकप में खेलनेवाली सारी टीमें दुनिया की बेस्ट टीमें होती हैं। संभवत: उन्हें ही देखकर सर्वे वगैरह किए जाते हैं। ऐसा ही एक सर्वे आया है जिसमें ब्राजील को विजेता बताया जा रहा है। अब ये अलग बात है कि ब्राजील अपना १६ साल का सूखा खत्म करता है या नहीं? मगर एक वैश्विक सर्वेक्षण में इसकी संभावना जताई गई है। दुनिया भर में मनोरंजन सेवाओं और कंपनियों के लिए संगीत, वीडियो और खेल मेटाडाटा और स्वचालित सामग्री मान्यता (एसीआर) प्रौद्योगिकी प्रदान करनेवाली अग्रणी कंपनी-ग्रेचनोट द्वारा किए गए सर्वे से यह बात निकलकर सामने आई है कि करिश्माई नेमार जूनियर के नेतृत्व में ब्राजील के इस साल खिताब जीतने की सबसे अधिक २१ फीसदी संभावना है। दूसरे क्रम पर स्पेन है, जिसने २०१० में खिताब जीता था, लेकिन इसके बाद लय से भटक गया था। मौजूदा चैंपियन जर्मनी और २०१४ में जर्मनी के खिलाफ फाइनल खेलनेवाली लियोनेल मेसी की टीम के खिताब तक पहुंचने की ८-८ प्रतिशत संभावना है। इसके बाद ६ प्रतिशत संभावना के साथ फ्रांस चौथे क्रम पर है। मैदान पर स्थितियां अलग हो जाती हैं। यदि फ़ुटबाल सर्वे या भविष्यवाणी पर ही अपना विजेता निकालता होता तो अब तक ब्राजील, जर्मनी , फ्रांस ही विजेता बना रहता।