सात चरणों में होंगे चुनाव, २३ मई को आएंगे नतीजे

लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है। लोकसभा चुनाव ७ चरणों में होंगे और २३ मई को नतीजे आएंगे। आंध्रप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, ओडिशा और जम्मू-कश्मीर के विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान भी हो सकता है। हालांकि, जम्मू-कश्मीर को लेकर अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है।

चुनाव आयोग ने बताया कि पहले चरण में २० राज्यों की ९१ लोकसभा सीटों पर वोटिंग होगी। दूसरे चरण में १३ राज्यों की ९७ सीटों पर चुनाव होंगे। तीसरे चरण में १४ राज्यों की ११५ सीटों पर चुनाव होंगे। चौथे चरण में ९ राज्यों की ७१ सीटों पर चुनाव होंगे। पांचवे चरण में ७ राज्यों की ५१ सीटों पर चुनाव होंगे। छठे चरण में ७ राज्यों की ५९ सीटों पर चुनाव होंगे। सातवें चरण में ८ राज्यों की ५९ सीटों पर चुनाव होंगे।

चुनाव आयोग ने कहा कि सभी संवेदनशील कार्यक्रम की वीडियोग्राफी की जाएगी और निष्पक्ष चुनाव के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए गए हैं। ण्Eण् अरोड़ा ने कहा कि उम्मीदवारों को अपने आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी देनी होगी। उन्होंने कहा कि कुछ राज्यों के लिए विशेष पर्यवेक्षक भी नियुक्त किए गए हैं। साथ ही चुनाव में ईवीएम की जीपीएट ट्रैकिंग भी की जाएगी। चुनाव आयुक्त ने कहा कि संवेदनशील इलाकों में ण्Rझ्इ की तैनाती भी की जाएगी।

सुनील अरोड़ा ने कहा कि १९५० पर फोन कर और एसएमएस के जरिए वोटिर अपना नाम वोटिंग लिस्ट में चेक कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि ईवीएम पर उम्मीदवारों की तस्वीर होगी। कुल १० लाख बूथों पर वोट डाले जाएंगे। देशभर में आज से आदर्श आचार संहिता लागू हो जाएगी और किसी भी उल्लंघन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। लाउड स्पीकर के इस्तेमाल पर नजर रखी जाएगी और समय-सीमा के अंदर की उसके इस्तेमाल की इजाजत होगी।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि चुनाव की तारीखों में फसल की कटाई और परीक्षाओं का भी ध्यान रखा गया है ताकि किसी को दिक्कत न आए। उन्होंने कहा कि चुनाव को लेकर आयकर विभाग से भी चर्चा की गई है। इस बार ८४ मिलियन वोटर और बढ़े हैं और कुच ९० करोड़ लोग इस बार वोट डालने जा रहे हैं। १८-१९ साल के डेढ़ करोड़ वोट हैं। अरोड़ा ने कहा कि पोलिंग स्टेशन पर पानी, शौचालय और बिजली के इंतेजाम भी किए गए हैं। साथ ही इस चुनाव में भी ईवीएम का इस्तेमाल होगा और सभी बूथों पर नोटा के साथ वीवीपैट लगाए जाएंगे।