" /> साथी की थाने में पिटाई से भाजपा विधायक नाराज, पहुंचे अलीगढ़

साथी की थाने में पिटाई से भाजपा विधायक नाराज, पहुंचे अलीगढ़

•मीडियाकर्मियों ने घेरा तो गए सवालों से कन्नी काटी

यूपी के अलीगढ़ में एक भाजपा विधायक की थाने में पिटाई के चर्चित मामले को लेकर पार्टी के भीतर भी असंतोष पनप रहा है। विधायक कसमसा रहे हैं। सोशल मीडिया पर प्रकरण को लेकर भाजपाई असंतोष दर्शा रहे हैं तो वहीं। गुरुवार को सुल्तानपुर की लंभुआ विधानसभा क्षेत्र के विधायक देवमणि द्विवेदी खुद को रोक न सके। साथी को न्याय दिलाने खुद ही अलीगढ़ पहुंच गए अफसरों से मिलने मिलाने। हालांकि मीडिया ने घेरा तो अचकचा गए और बगैर कुछ ठोस जवाब दिए ही कन्नी काट निकल लिये।
रेलवे के पूर्व आईआरईएस अधिकारी व मौजूदा भाजपा विधायक देवमणि द्विवेदी अलीगढ़ में इगलास के एमएलए राजकुमार सहयोगी की पुलिस द्वारा थाने में पिटाई के सनसनीखेज प्रकरण से काफी खिन्न हैं। उनके करीबियों ने बुधवार को ही फ़ेसबुक व व्हाट्सएप पर उनकी मनःस्थिति को सार्वजनिक तौर पर बयां कर दिया था। स्वयं विधायक द्विवेदी ने भी लाखों कार्यकर्ताओं व जनप्रतिनिधियों के सम्मान के लिए खुलकर आगे आकर फैसला लेने की बात कह डाली। एक संवाद में उन्होंने कहा भी..’ लाखों कार्यकर्ता और 403 विधायको के पिटने का इंतजार हम नही कर सकते!’ इस बीच जब सोशल मीडिया पर विधायक समर्थक उनके इस्तीफे के कयास लगा रहे थे तभी द्विवेदी गुरुवार को अलीगढ़ जा पहुंचे। वहां उन्होंने पीड़ित साथी विधायक राजकुमार सहयोगी से मुलाकात की और फिर डीएम व अन्य अधिकारियों से प्रकरण के संदर्भ में मुलाकात की। उधर मीडियाकर्मियों को जब इसकी खबर लगी तो उन्हें खोजना शुरू कर दिया। एक जगह अधिकारियों से मिलकर निकलते विधायक द्विवेदी मीडियाकर्मियों से घिर गए। सवालों की बौछार शुरू हुई तो उन्होंने यह कहकर पल्ला झाड़ा कि उन्हें यहां पार्टी ने नहीं भेजा है स्वयं आए हैं।..लेकिन किसलिये और क्यों ये बताने से इनकार कर दिया।