" /> सावधान! मत छुओ कोरोना मृतकों का शव : इससे बढ़ रहा है संक्रमण

सावधान! मत छुओ कोरोना मृतकों का शव : इससे बढ़ रहा है संक्रमण

– भिवंडी मनपा आयुक्त ने जारी किया वीडियो संदेश
– बढ़ते संक्रमण को बताया इसका मुख्य कारण
– अंतिम विधि में 10 लोगों के शामिल होने का आदेश

भिवंडी मनपा आयुक्त प्रवीण आष्टिकर ने शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमण का मुख्य कारण कोरोना से मरनेवालों के शव को छूना बताया है। मनपा आयुक्त के मुताबिक अस्पताल से पैक कर अंतिम क्रिया के लिए भेजे जानेवाले शव को खोलकर टच करने और आलिंगन करने जैसी कुछ घटनाओं के कारण बड़े पैमाने पर शहर में कोरोना का फैलाव हो रहा है। इसलिए कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए अंतिम संस्कार करते समय कम-से-कम लोग यानि 10 से अधिक लोग शामिल न हों। अस्पताल से पैक करके दिए गए शव को न तो खोलें, न स्पर्श करें और न ही उसका अंतिम दर्शन लें।
भिवंडी मनपा आयुक्त प्रवीण आष्टिकर ने एक वीडियो जारी कर शहर के लोगों को संदेश दिया है कि भिवंडी महानगर पालिका क्षेत्र के अंतर्गत कोरोना वायरस रोग से मृत मरीज का शव अस्पताल से पोस्टमार्टम कर प्लास्टिक के कवर में लपेटकर उनके सगे-संबंधियों को सौंपा जाता है। लेकिन कई लोग उस प्लास्टिक को खोलकर मृत व्यक्ति का दर्शन व स्पर्श कर अंतिम क्रिया करते हैं, जिसके कारण कई मामलों में ऐसे लोगों के संबंधी और परिवार के लोगों को कोरोना रोग होने की जानकारी मिली है। मनपा आयुक्त आष्टीकर ने लोगों से आग्रह किया है कि कोरोना रोग से मृत व्यक्ति की लाश को खोले बिना ही उसका अंतिम संस्कार करें। अंतिम यात्रा में 10 से अधिक लोग शामिल न हों। इसके अतिरिक्त आयुक्त ने कहा है कि भिवंडी के कुछ कोरोना मरीजों इलाज शहर के बाहर के अस्पतालों में चल रहा है, जहां उनकी मृत्यु के बाद उनकी बॉडी को अंतिम संस्कार के लिए भिवंडी शहर में लाया जाता है। यह पूरी तरह से गलत है। मृतक व्यक्ति को उसी शहर में दफनाकर या जलाकर धर्मानुसार उसका अंतिम संस्कार करें।