" /> सीएम के जन्मदिन पर धारावी में देश का पहला प्लाज्मा दान कैंप

सीएम के जन्मदिन पर धारावी में देश का पहला प्लाज्मा दान कैंप

कोरोना का केंद्र बने धारावी से `प्लाज्मा दान संकल्प अभियान’ की शुरुआत हो रही है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के जन्मदिन २७ जुलाई से इस अभियान की शुरुआत हो रही है। शिवसेना सांसद राहुल शेवाले द्वारा इस अभियान की शुरुआत की जा रही है। इस अभियान के तहत पहले दिन धारावी में देश का पहला प्लाज्मा दान  कैंप लगाया जाएगा।
बता दें कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के जन्मदिन के परिपेक्ष्य में हर वर्ष सामाजिक उपक्रम किए जाते हैं। इस वर्ष हुए कोरोना संकट को दूर करने के लिए प्लाज्मा दान संकल्प अभियान की शुरुआत की जाएगी। सप्ताह भर चलनेवाले इस अभियान में कोरोना को मात देनेवाले मरीज प्लाज्मा दान करेंगे, साथ ही प्लाज्मा दान को लेकर जनजागृति भी की जाएगी। इस तरह के पहले आयोजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभानेवाले दक्षिण मध्य मुंबई के शिवसेना सांसद राहुल शेवाले का कहना है कि कम-से-कम ५०० लोगों का प्लाज्मा दान कराने का लक्ष्य रखा है। इनका प्लाज्मा कई कोरोना मरीजों को नया जीवनदान दे सकता है। हाल ही में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दुनिया की सबसे बड़ी प्लाज्मा थेरेपी ट्रायल सेंटर का उद्‌घाटन किया। यह सेंटर नागपुर के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में बनाया गया है। अब धारावी में पहला प्लाज्मा डोनेशन वैंâप लगाया जा रहा है।
धारावी के वैंâप में प्लाज्मा निकालने का काम मनपा के सायन, केईएम, नायर और कूपर अस्पताल के डॉक्टर करेंगे। पहले दिन कोरोना को मात देनेवाले धारावी के नागरिक, डॉक्टर्स, पुलिस आदि लोग प्लाज्मा दान करेंगे। इसके बाद सप्ताह भर में दादर-माहिम, वडाला, सायन-कोलीवाड़ा, चेंबूर और अणुशक्ति नगर विधानसभा क्षेत्र में इस तरह के वैंâप लगाए जाएंगे। कोरोना से जूझकर ठीक हुआ मरीज २८ दिन के बाद प्लाज्मा डोनेट कर सकता है। अब तक धारावी में २,४९२ लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसमें धारावी पुलिस स्टेशन के २४ और साहू नगर पुलिस स्टेशन के २६ पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। सांसद शेवाले कहते हैं कि कोरोना को मात देनेवाले जो लोग डायबिटीज या फिर अन्य दूसरी बीमारियों से पीड़ित हैं, वे प्लाज्मा नहीं दान कर सकते। जो स्वस्थ हैं, वे ही प्लाज्मा डोनेट कर सकते हैं।