" /> सीएसएमटी टू मुंबई सेंट्रल : लंबी मेट्रो सुरंग तैयार

सीएसएमटी टू मुंबई सेंट्रल : लंबी मेट्रो सुरंग तैयार

4 किमी लंबी है सुरंग
2730 कंक्रीट रिंग का हुआ इस्तेमाल
लॉक डाउन के बीच कल अंडर ग्राउंड मेट्रो-3 परियोजना के अंतर्गत हो रहे मेट्रो टनल निर्माण के कार्य को एक नया यश मिला। मुंबई मेट्रो रेल कार्पोरेशन ने कल छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस से मुंबई सेंट्रल के बीच 4 किमी की लंबी सुरंग तैयार कर ली। इसी के साथ ही टीबीएम की मदद से हो रही टनल खुदाई का 28 वा चरण भी कल पूरा हुआ।
जानकारी के मुताबिक वैतरणी-2टीबीएम ये 4 किमी टनल की खुदाई करने वाली पहली टीबीएम मशीन साबित हुई है। पैकेज-2 के अंतर्गत वैतरणी-2 टीबीएम मशीन ने फरवरी2018 से खुदाई का काम शुरू कर दिया था। टीबीएम मशीन को सीएसएमटी के शाफ्ट में लॉन्च किया गया था 2730 कंक्रीट रिंग का इस्तेमाल करते हुए मेट्रो-3की वैतरणा-2 टीबीएम मशीन ने सबसे लंबा सफर मुंबई सेंट्रल तक तय किया।
4 किमी लंबी सुरंग पूरी होने पर एमएमआरसीएल के कार्यकारी संचालक रंजीत सिंह देओल ने बताया कि पैकेज-2 के अंतर्गत आनेवाला यह हिस्सा समुंद्री किनारे के समांतर था। इसी के साथ ही इस मार्ग पर कई पुरानी रिहायशी इमारतें थी।इसके अलावा इस मार्ग के भूगर्भ में पानी का स्तर 1 से 4 मीटर के अंतर पर था, जिससे ये मार्ग बहुत ही चैलेंजिंग था। उन्होंने बताया कि कोविड-19 कारण इस काम के दौरान महाराष्ट्र सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देश का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखकर इस काम को पूरा किया गया। गौरतलब है कि मेट्रो-3 कोलाबा – बांद्रा-सिप्ज मार्ग पर छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस से मुंबई सेंट्रल के जस 4 किमी के दायरे में कालबादेवी, गिरगांव, ग्रांट रोड व मुंबई सेंट्रल ये पांच मेट्रो स्टेशन का समावेश हैं।