सीबीआई चीफ ने नौकरी ही छोड़ दी

उच्चस्तरीय सिलेक्शन कमिटी द्वारा सीबीआई डायरेक्टर पद से हटाए जाने और तबादला किए जाने के एक दिन बाद आलोक वर्मा ने सरकार को इस्तीफा भेज दिया है। वर्मा का तबादला करते हुए उन्हें फायर सर्विसेज का डायरेक्टर बनाया गया था लेकिन पहले तो उन्होंने चार्ज लेने से इंकार किया और बाद में इस्तीफा ही दे दिया।
अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और केंद्र शासित प्रदेश काडर से १९७९ बैच के आईपीएस
ऑफिसर आलोक वर्मा सीबीआई के २७वें डायरेक्टर थे, ३१ जनवरी को वह रिटायर होनेवाले थे। वर्मा १ फरवरी २०१७ को सीबीआई डायरेक्टर बने थे। वर्मा और सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना दोनों ने एक दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। बाद में अस्थाना के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हुई। यह विवाद इतना बढ़ा कि सरकार ने दोनों अफसरों को जबरन छुट्टी पर भेज दिया था।