सुरक्षा में ४५वें पायदान पर पहुंची पुलिस

जब भी सुरक्षा की बात आती है तो देश भर में मुंबई पुलिस की चर्चा होती है। मुंबई पुलिस की चुस्ती-फुर्ती और बहादुरी के उदाहरण देश भर के सभी बड़े शहरों में दिए जाते हैं। अब ये चर्चे विश्व भर में भी होने लगे हैं क्योंकि मुंबई ने दुनिया के सुरक्षित शहरों में ४५वें पायदान पर अपना स्थान ग्रहण किया है। मुंबई के बाद दिल्ली देश का दूसरा ऐसा शहर है, जो इस सूची में अपना नाम दर्ज करवा पाया है।
बता दें कि इकोनॉमिक इंटेलिजेंस यूनिट ने डिजिटल हेल्थ और सुरक्षा के आधार पर सेफ सिटीज इंडेक्स जारी किया, जिसकी सूची में पांच महाद्वीपों के ६० शहर शामिल हैं। इस सूची में मुंबई ने अपना नाम ४५वें स्थान पर दर्ज करवाया है जबकि दिल्ली को ५२वां स्थान मिला है। रैकिंग में पाकिस्तान के कराची शहर को ५७वां स्थान मिला है, वहीं बांग्लादेश की राजधानी ढाका ५६वें नंबर पर है। सर्वाधिक १० सुरक्षित शहरों में सियोल भी शामिल है। कोपनहेगन के साथ सियोल आठवें स्थान पर है। इस सूची के मुताबिक जापान की राजधानी टोक्यो विश्व का सबसे सुरक्षित शहर है। सेफ सिटीज इंडेक्स के मुताबिक सुरक्षित शहरों की सूची जारी करते समय स्वास्थ्य, बुनियादी सुविधाएं, सुरक्षा समेत कुल ५७ पैमानों पर शहरों को परखा गया, फिर इन्हें रैंकिंग दी गई। फिर इस आधार पर विश्व के ६० शहरों को इस सूची में स्थान दिया गया।