" /> हंपी की शह और मात

हंपी की शह और मात

कोरोना काल में शतरंज से एक सुखद खबर आई जब कोनेरू हम्पी ने दुनिया की नम्बर एक खिलाड़ी को मात दी और फाइनल में कदम रखा। देश की शीर्ष खिलाड़ी कोनेरू हंपी ने दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी चीन की होउ यिफान को ६.५ से हराकर महिला स्पीड चेस टूर्नामेंट के चौथे और आखिरी चरण के फाइनल में प्रवेश कर लिया।विश्व रैपिड चैम्पियन हम्पी ने कड़े मुकाबले में जीत दर्ज की। दूसरे सेमीफाइनल में पूर्व विश्व चैम्पियन रूस की अलेक्जेंद्रा कोस्तेनियुक का सामना ईरान की सारासादत खादेमालशारियेह से होगा। यह ग्रां प्री का अंतिम चरण में जिसमें २१ खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। प्रत्येक खिलाड़ी को चार में से तीन चरण में हिस्सा लेना था। प्रत्येक चरण १६ खिलाड़ियों के बीच नॉकआउट आधार पर खेला गया।प्रत्येक चरण से खिलाड़ी को मिले अंकों को जोड़कर अंतिम अंक तालिका में उनकी स्थिति तय की जाएगी। जिन दो खिलाड़ियों को कुल योग के आधार पर सर्वाधिक अंक मिलेंगे वे २० जुलाई को होने वाले सुपर फाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगी।