" /> हनी ट्रैप में फंसे दो और युवकों की गिरफ्तारी के बाद हड़कंप

हनी ट्रैप में फंसे दो और युवकों की गिरफ्तारी के बाद हड़कंप

अरनिया पुलिस ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के हनीट्रैप में फंसे दो और युवकों को हिरासत में लिया है। भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे अरनिया इलाके से दो युवकों को हिरासत में लेने की सूचना से हड़कंप मच गया है। इनमें से एक युवक बीएसएफ का जवान बताया जा रहा है। हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है। सूत्रों के अनुसार हनीट्रैप से जुड़े पुराने मामले में जांच के दौरान दो और युवकों के नाम सामने आए। बताया जा रहा है कि इनमें से एक स्थानीय युवक है जबकि दूसरा बीएसएफ कर्मी बताया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने सीमावर्ती इलाकों के युवकों को हनीट्रैप में फंसाने की साजिश रची है। इसी तरह के एक मामले में कुछ माह पूर्व अरनिया से ही एक युवक को पकड़ा गया था। इसके बाद जम्मू से सटे एक क्षेत्र में भी हनीट्रैप का मामला सामने आया था।
प्रारंभिक छानबीन में बताया जा रहा है कि इन सभी मामलों में आईएसआई युवकों को लड़की के प्यार का झांसा दिलाकर खुफिया जानकारी हासिल कर रही थी। इसमें मुख्य रूप से सुरक्षा बलों की मूवमेंट समेत अन्य सामरिक महत्व की जानकारी ली जा रही थी।

अधिकारियों के मुताबिक, तेलंगाना से पकड़े गए एक व्यक्ति से मिली जानकारी के बाद अरनिया पुलिस ने बुधवार को एक सैनिक को पकड़ा है, जो इन दिनों देहरादून में तैनात है। वह आरएसपुरा का रहने वाला है। सैन्य कर्मी छुट्टी पर घर आया था। तभी पुलिस कर्मियों ने उसे दबोच लिया। आरोप है कि सैन्य कर्मी के बैंक खाते में आइएसआइ ने 10 हजार रुपये जमा करवाए थे। यह धनराशि किन कारणों से उसके खाते में आई थी, इसकी जानकारी हासिल की जा रही है। तेलंगाना से पकड़े गए व्यक्ति सारीकेली लिगना से पुलिस को कई अहम जानकारी मिली है।

जम्मू पुलिस सारीकेली को एक मार्च को तेलंगाना में दबोचने में कामयाब हो गई थी, लेकिन उसे रिमांड पर जम्मू नहीं ला पाई थी। बाद में जम्मू पुलिस की टीम फिर तेलंगाना रवाना हुई और बुधवार को आरोपित को लेकर जम्मू आ गई। नाबालिग के बैंक खाते की जांच के दौरान पता चला था कि सारीकेली ने सुरक्षाबलों की जानकारियां देने के लिए उसके बैंक खाते में धनराशि जमा करवाई थी।
पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि तेलंगाना से पकड़े गए सारीकेली लिगना से पूछताछ में कई अहम जानकारियां मिली हैं। आरएसपुरा-अरनिया में रहने वाले कुछ और युवा आइएसआइ के हनीट्रैप में फंसे हुए हैं। उन्होंने सीमा पार कई अहम जानकारियां भेजी हैं। इन युवाओं की पहचान कर उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। पटियाला की युवती बताकर नाबालिग को फंसाया था।