" /> हम तैयार हैं!

हम तैयार हैं!

वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड को एक प्रस्ताव दिया। इसमें कहा गया है कि अगर पाकिस्तान और इंग्लैंड दोनों तैयार हों तो वो इनकी टेस्ट सीरीज विंडीज में कराने को तैयार है। इस ऑफर की वजह कोरोना वायरस है। दरअसल, गुरुवार तक वेस्ट इंडीज में संक्रमण के ५ मामले ही सामने आए थे। वहीं, इंग्लैंड में करीब ढाई हजार लोग संक्रमित पाए गए हैं। ३३ की मौत हो चुकी है। पाकिस्तान को जुलाई-अगस्त में इंग्लैंड दौरा करना है। दोनों देशों के बीच तीन टेस्ट खेले जाने हैं।
जुलाई में होगी टेस्ट सीरीज
इंग्लैंड और पाकिस्तान दोनों ही देश कोरोना संक्रमण से काफी प्रभावित हैं। गुरुवार तक पाकिस्तान में ३०१ मामले सामने आए। दो लोगों की मौत हो गई। वहीं, इंग्लैंड में करीब ढाई हजार मामले सामने आए और ३३ लोगों ने दम तोड़ दिया। वहीं, विंडीज के सभी द्वीपों में कुल मिलाकर सिर्फ पांच मामले दर्ज किए गए। ऐसे में विंडीज क्रिकेट बोर्ड ने इंग्लैंड को एक प्रस्ताव भेजा। इसमें कहा गया कि अगर पाकिस्तान और इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड चाहें तो वो दोनों देशों की टेस्ट सीरीज अपने यहां करा सकता है।
इंग्लैंड को दो सीरीज खेलनी है
जून में वेस्ट इंडीज टीम इंग्लैंड दौरे पर आनेवाली है। जुलाई से अगस्त के बीच यहां पाकिस्तान टीम आएगी। ब्रिटेन में कोरोना के कहर को देखते हुए लगता नहीं कि वहां हालात जल्द बेहतर होंगे। विंडीज क्रिकेट बोर्ड के सीईओ जेफ ग्रोव ने ‘द गार्डियन’ अखबार से कहा, ‘इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड से हमारे बहुत अच्छे संबंध रहे हैं। विंडीज में हालात बेहतर हैं। अगर इंग्लैंड चाहे तो हम पाकिस्तान की टेस्ट सीरीज अपने देश में कराने को तैयार हैं।’ ग्रोव ने ये भी कहा कि इंग्लैंड चाहे तो विंडीज टीम अपने घर में ही उसके खिलाफ सीरीज खेल सकते हैं। पाकिस्तान और इंग्लैंड बोर्ड्स ने विंडीज के प्रस्ताव पर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।