" /> हरियाणा में कोरोना संदिग्ध के अंतिम संस्कार पर बवाल, भीड़ ने पुलिस-डॉक्टरों की टीम पर लाठी-डंडों से किया हमला

हरियाणा में कोरोना संदिग्ध के अंतिम संस्कार पर बवाल, भीड़ ने पुलिस-डॉक्टरों की टीम पर लाठी-डंडों से किया हमला

कोरोना वायरस के कहर के बीच सोमवार को हरियाणा के अंबाला में कोरोना वायरस संदिग्ध के अंतिम संस्कार को लेकर हंगामा हो गया। मामला इस कदर बिगड़ गया कि अंतिम संस्कार में शामिल हुए 200 से 400 लोगों की भीड़ ने पुलिस और डॉक्टरों पर हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि सोमवार को कोरोना संदिग्ध महिला की बीमारी मौत हो गई, जिसके बाद उसका अंतिम संस्कार किया जाना था। लॉकडाउन का उल्लंघन कर ग्रामीणों ने अंतिम संस्कार स्थल पर पहुंच पुलिस का विरोध किया। ख़बर के मुताबिक जब कोरोना संदिग्ध महिला का शव अंतिम संस्कार के लिए चांदपुरा के अंतिम संस्कार स्थल पर लाया गया, जिसके बाद ग्रामीणों ने इसका विरोध किया। शव के अंतिम संस्कार को लेकर मामला इस कदर बढ़ गया कि पुलिस और स्थानीय लोगों में झड़प हो गई। ग्रामीणों ने पुलिसवालों पर पथराव किया और मामला इस कदर बिगड़ गया कि भीड़ हटाने के लिए पुलिसवालों को लाठीचार्ज करनी पड़ी। बताया जा रहा है कि ग्रामीण उस जगह पर अंतिम संस्कार नहीं होने के लिए अड़े थे। जबकि प्रशासन ने सुरक्षा के सारे इंतजाम के तहत इस जगह को चुना था। गांव वालों ने न सिर्फ लाठी-डंडों से पुलिस और डॉक्टरों की टीम पर हमला किया, बल्कि एंबुलेंस को भी नुकसान पहुंचाया और तोड़ फोड़ किया। ग्रीमीणों ने पुलिस-डॉक्टरों की टीम पर पत्थर भी बरसाए। अंबाला के डीएसपी राम कुमार ने बताया, यह स्थान कोविड-19 के मरीजों और संदिग्धों के अंतिम संस्कार के लिए है। जब हम कोरोना संदिग्ध महिला का शव लेकर यहां आए, तो ग्रामीणों ने इसका विरोध किया। करीब 200 से 400 लोग लॉकडाउन का उल्लंघन कर यहां जमा हो गए और उन्होंने पुलिस और डॉक्टरों की टीम पर हमला कर दिया। उन्होंने कहा कि हमने ग्रामीणों को समझाया कि सभी सुरक्षा उपायों को अपनाया गया मगर वह बात सुनने को तैयार नहीं थे। लॉकडाउन का उल्लंघन करने और डॉक्टरों-पुलिसकर्मियों पर हमला करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

अंबाला में कोरोना मरीजों की संख्या 13
हरियाणा के अंबाला जिले में पिछले दो दिनों में कोरोना संक्रमण के दो और मरीज मिलने से जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 13 हो गई है। रतनगढ़ गांव की एक 63 वषीर्य महिला को पॉजिटिव पाया गया है, जिसके बाद गांव को सील कर दिया गया और क्षेत्र को कन्टेनमेंट जोन घोषित किया गया। सभी निवासियों को कोरंटाईन किया गया हे। इससे पहले थारवा मजरी गांव से एक पॉजिटिव मामला निकला था और मरीज को पीजीआई, चंडीगढ़ रेफर किया गया है।