" /> होली में मचाया हुड़दंग तो जेल में हो जाओगे बंद

होली में मचाया हुड़दंग तो जेल में हो जाओगे बंद

होली का त्यौहार नजदीक है। रंगों के त्यौहार में हुडदंग मचानेवाले सावधान हो जाओ क्योंकि ठाणे पुलिस की नजर आप पर है। यदि हुड़दंग मचाते हुए पकड़े जाते हो तो सीधे जेल में बंद कर दिए जाओगे। होली के पर्व को लेकर ठाणे पुलिस ने ५ हजार जवानों की तैनाती चप्पे-चप्पे पर की है। इतना ही नहीं, होली में महिलाओं की सुरक्षा के लिए ‘दामिनी’ टीम भी गश्त लगाएगी।
बता दें कि होली का त्यौहार १० मार्च को है लेकिन इस पर्व की शुरुआत कुछ दिन पहले से ही हो जाती है। हुड़दंग मचानेवाले कई मनचले इमारतों की छतों से महिलाओं और अन्य लोगों पर पानी के गुब्बारे मारकर उन्हें परेशान करते नजर आते हैं। कई बार गुब्बारों की चोट इतनी जोरदार होती है कि लोग घायल तक हो जाते हैं। इन घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए ठाणे, भिवंडी, डोंबिवली, कल्याण व उल्हासनगर आदि भागों में पुलिस गश्त करनेवाली है। इस दौरान यदि किसी भी व्यक्ति की शिकायत पुलिस के पास आती है तो पुलिस उस व्यक्ति पर कानूनी कार्रवाई करेगी। वहीं स्टेट रिजर्व पुलिस फोर्स की ४ टुकड़ियां, ५०० होमगार्ड पुलिस के साथ शहरी भागों में गश्त लगाकर घटनाओं पर अंकुश लगाने का कार्य करेंगी। पुलिस अधिकारियों की मानें तो गुब्बारे फोड़नेवालों पर कठोर कार्रवाई का आदेश पुलिस प्रशासन द्वारा दिया गया है। ठाणे पुलिस आयुक्त विवेक फणसलकर ने बताया कि रंगपंचमी का त्यौहार पूरे उत्साह से मनाएं लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि आपकी वजह से किसी अन्य व्यक्ति को परेशानी का सामना न करना पड़े। यदि किसी भी व्यक्ति के खिलाफ शिकायत पुलिस के पास आती है तो संबंधित व्यक्ति पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।
‘दामिनी’ भी रखेगी नजर
होली के दौरान महिलाओं से छेड़छाड़ के कई मामले सामने आते हैं। इन मामलों को अंजाम देनेवालों पर नजर रखने के लिए ठाणे पुलिस की ‘दामिनी’ टीम सादे कपड़ों में परिसर में गश्त लगाएगी।
रेलवे पुलिस भी तैनात
ठाणे के कलवा व मुंब्रा भागों में रेलवे की पटरियों के समीप बस्तियां मौजूद हैं। इन बस्तियों से गुजरनेवाली लोकल ट्रेनों पर गुब्बारे व प्लास्टिक की थैलियां मारी जाती हैं। इन घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए ठाणे रेलवे पुलिस द्वारा मेगाफोन से जनजागृति की जा रही है। इतना ही नहीं, वहां मौजूद विद्यालयों में विद्यार्थियों को जागरूक रेलवे के प्रवासी संगठनों द्वारा किया जा रहा है।