" /> 25मौत, 752 कोरोना पॉजीटिव से धधक रहा आगरा

25मौत, 752 कोरोना पॉजीटिव से धधक रहा आगरा

पुलिस शख्त-बेवजह निकले तो खैर नहीं!

रविवार को ताज नगरी में कोरोना संक्रमित के 9 नए मामले सामने आए हैं, इसके बाद आगरा में कोरोना का आंकड़ा 752 पहुंच गया है। 4 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत के बाद अब तक 25 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं आज आधा दर्जन के लगभग कोरोना मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं जिसके बाद कोरोना संक्रमित के ठीक होने वाले वालों की संख्या 326 हो चुकी है जबकि अब कुल वर्तमान में कोरोना संक्रमित के 401 मरीज है जिनका इलाज किया जा रहा है।वहीं आगरा डीएम पीएम सिंह द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना हॉटस्पॉट की संख्या 44 है। कोरोना के बढ़ते मामले के बाद आगरा प्रशासन बेहद सख्त हो गया है। आज रात 12:00 बजे के बाद से बेवजह घर से बाहर निकलने पर कड़ाई की गई है। इसके लिए प्रशासन ने स्थानीय थाना अध्यक्षों की जिम्मेदारी भी तय कर दी है। इसलिए लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराने के दौरान अगर कोई बेवजह घर से बाहर निकलता है तो उसके ख़िलाफ़ मुकदमा दर्ज हो सकता है। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से अत्यधिक प्रभावित आगरा सहित 3 जनपदों में कोरोना के प्रभावी नियंत्रण और वर्तमान कार्रवाई के पर्यवेक्षण के लिए वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। इसमें आगरा में पहले ही चार्ज संभाल चुके औद्योगिक विकास विभाग के प्रमुख सचिव आलोक कुमार हैं, इसके अलावा चिकित्सा शिक्षा के प्रमुख सचिव रजनीश दुबे, आईजी विजय प्रकाश, विशेष कार्याधिकारी डॉ अविनाश कुमार सिंह, एसजीपीजीआई लखनऊ में पल्मोनरी विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो आलोक नाथ की नियुक्ति आगरा में की गई है।