" /> मंत्रालय में ३५ कोरोना मरीज मिले….मुंबई में ३६% मरीज बढ़े

मंत्रालय में ३५ कोरोना मरीज मिले….मुंबई में ३६% मरीज बढ़े

मुंबई सहित राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ रही है। अब मंत्रालय के ३५ कर्मचारियों को भी कोरोना ने धर लिया है। इस वजह से अधिकारियों-कर्मचारियों में अब भय का वातावरण है। दूसरी तरफ महाराष्ट्र में चिंता बढ़ाने वाली खबर नई दिल्ली के एम्स अस्पताल के संचालक डॉ रणदीप गुलेरिया ने दी है। महाराष्ट्र में कोरोना का नया स्ट्रेन आ गया है जो बहुत ही डेंजरस है क्योंकि कोरोना के इस नए स्ट्रेन से उन लोगों के पुनः कोरोना संक्रमित होने की अधिक संभावना है जिन लोगों के शरीर में एंटीबॉडी विकसित हो चुका है। ये बातें डॉ गुलेरिया ने बतार्इं।
मुंबई में कोरोना डबलिंग रेट घटा
पिछले एक सप्ताह में मुंबई में कोरोना मरीजों की संख्या में ३६ प्रतिशत वृद्धि हुई है। यह जानकारी मनपा ने दी। पिछले ८ फरवरी को कोरोना के ५३३५ सक्रिय मरीज थे जबकि रविवार २१ फरवरी को यह आंकड़ा ७२७६ पहुंच गया तो वहीं ८ फरवरी को कोरोना मरीजों का डबलिंग रेट५७४ दिन था जो २१ तारीख में ३४६ दिन हो गया है।
मंत्रालय में ३५ लोग पॉजिटिव
सरकारी कर्मचारियों की १०० प्रतिशत उपस्थिति होने के साथ ही एक बार फिर से कोरोना संक्रमण बढ़ाने लगा है। पिछले सप्ताह राजस्व विभाग के तीन कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। अब सोमवार को फिर २३ अधिकारी-कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए। शिक्षा विभाग में भी १२ कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। राजस्व विभाग में दो उप सचिव, ४ अपर सचिव, तीन कक्ष अधिकारी, ४ सहायक कक्ष अधिकारी और ८ कारकून ऐसे कुल २३ कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसमें से एक कर्मचारी की स्थिति गंभीर बताई जा रही है।
मंत्री भुजबल हुए पॉजिटिव
राज्य के खाद्य आपूर्ति व ग्राहक संरक्षण मंत्री और नासिक के जिला पालक मंत्री छगन भुजबल कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने पिछले दो से तीन दिनों में अपने संपर्क में आए सभी लोगों को कोरोना जांच कराने की अपील की है। साथ ही होम क्वॉरंटीन होने की बात कही है।