" /> 49 दिन में कराची में दफनाए गए 3, 265 शव, कोरोना से हुई मौतों का आंकड़ा छिपा रहा पाक

49 दिन में कराची में दफनाए गए 3, 265 शव, कोरोना से हुई मौतों का आंकड़ा छिपा रहा पाक

कोरोना वायरस के संक्रमण से लगभग पूरी दुनिया प्रभावित है। जिससे भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान भी अछूता नहीं है। यहां डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के पास व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) किट, मास्क और दस्ताने की सुविधा नहीं है। इसके बावजूद कोविड-19 के मामले जनसंख्या के हिसाब से काफी कम हैं पाकिस्तान में अब तक कोरोना के 7, 400 से ज्यादा मामले सामने आए हैं और 143 लोगों की मौत हुई है। मगर पाकिस्तान के इन आंकड़ों पर उस समय सवाल उठने लगे जब खबर आई कि कराची शहर के कब्रिस्तानों में बीते 49 दिनों में 3, 265 शवों को दफनाया गया है। ये संख्या चौंकानेवाली है।

द ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार ये आंकड़े कराची प्रशासन ने जारी किए हैं। इससे पहले पाकिस्तानी मीडिया में इस तरह की खबरें आई थीं कि कराची के अस्पतालों में कोरोना से बड़ी तादाद में लोगों की मौत हो रही है लेकिन आम लोगों से प्रशासन इसे छुपाने की कोशिशों में लगा हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार जब हजारों दफनाए गए शवों को लेकर अधिकारियों से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने इस बात का जवाब नहीं दिया कि आखिर इतने लोगों की मौत कैसे हुई। वहीं इमरान खान सरकार ने मौत के इन आंकड़ों को सिरे से खारिज कर दिया है। जबकि शवों को दफनाने का आंकड़ा कराची नगर निगम ने जारी किया है। इससे साफ जाहिर होता है कि इमरान सरकार कुछ छुपाने की कोशिश कर रही है। वहीं भारत की बात की जाए तो यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी देखने को मिली है। पिछले 12 घंटे में वायरस के 543 नए मामले सामने आए हैं, जो शुक्रवार (628) की तुलना में कम है।