" /> 59 ऐप्स पर बैन लगाए जाने से परेशान हुआ चीन! बोला, इकट्ठा कर रहे हैं जानकारी

59 ऐप्स पर बैन लगाए जाने से परेशान हुआ चीन! बोला, इकट्ठा कर रहे हैं जानकारी

भारत-चीन सीमा विवाद पर जारी तनाव के बीच भारत सरकार द्वारा 59 चाइनीज ऐप्स को प्रतिबंधित किए जाने को लेकर चीन की प्रतिक्रिया सामने आई है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि इससे हम काफी चिंतित हैं। मामले की और जानकारी ले रहे हैं।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने कहा कि ऐप के बैन होने पर चीन काफी चिंतित है। उन्होंने कहा कि हम इस बात पर जोर देना चाहते हैं कि चीनी सरकार हमेशा चीनी व्यवसायों को अंतरराष्ट्रीय और स्थानीय कानूनों का पालन करने के लिए कहती है। भारत सरकार के पास चीनी निवेशकों सहित अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों के कानूनी अधिकारों को बनाए रखने की जिम्मेदारी है।

भारत सरकार ने सोमवार शाम को टिकटॉक, हेलो, वी-चैट समेत 59 चाइनीज ऐप्स को बैन कर दिया था। सरकार ने कहा था कि ये ऐप देश की संप्रभुता, अखंडता और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए हानिकारक हैं। आईटी मंत्रालय ने सोमवार को जारी एक आधिकारिक बयान में कहा कि उसे विभिन्न स्रोतों से कई शिकायतें मिली हैं, जिनमें एंड्रॉइड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप के दुरुपयोग के बारे में कई रिपोर्ट शामिल हैं।

इसके बाद टिकटॉक ने मंगलवार सुबह एक बयान जारी किया। टिकटॉक ने कहा कि उसने चीनी सरकार समेत किसी भी विदेशी सरकार के साथ यूजर्स का डाटा शेयर नहीं किया है और न ही भविष्य में वह ऐसा करेगी। टिकटॉक ने कहा कि हमें जवाब देने और स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के लिए संबंधित सरकारी हितधारकों के साथ मिलने के लिए आमंत्रित किया गया है। टिकटॉक भारतीय कानून के तहत सभी डाटा गोपनीयता और सुरक्षा आवश्यकताओं का पालन करता है।