" /> 6 लाख यात्रियों ने की 10 दिन में लोकल की सवारी

6 लाख यात्रियों ने की 10 दिन में लोकल की सवारी

कमाई 1 करोड़ 85 लाख के पार

15 जून से सरकारी कर्मचारियों के लिए मुंबई लोकल की 362 सेवाएं चलाई गईं। जी हां, वही मुंबई लोकल जिसमें रोजाना 78 लाख यात्री यात्रा किया करते थे। अनलॉक के पहले दौर में किए गए इस प्रयोग में 10 दिन (15 जून से 24 जून) बीतने के बावजूद रोजाना सफर करनेवाले यात्रियों का दस प्रतिशत आंकड़ा भी हासिल नहीं हुआ। मध्य और पश्चिम रेलवे द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, 10 दिनों में करीब 6 लाख से अधिक लोगों ने मुंबई लोकल सेवा का लाभ उठाया।

यात्री सफर
लॉकडाउन में अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को राज्य सरकार द्वारा लोकल में सफर करने की अनुमति मिली है। रेल अधिकारियों को अनुमान था कि रोजाना लोकल से सवा लाख यात्री सफर करेंगे। परंतु अब तक रोजाना सफर करनेवाले यात्रियों की संख्या सवा लाख के करीब नहीं पहुंच पाई है। 10 दिनों में लोकल से करीब 6 लाख 16 हजार 993 यात्रियों ने सफर किया है। यानी, औसतन रोजाना लोकल से 62 हजार यात्री सफर कर रहे हैं।

सिंगल जर्नी टिकट
अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े यात्रियों के लिए लोकल सेवा शुरू होने के बाद रेलवे ने विभिन्न स्टेशनों पर चुनिंदा टिकट काउंटर खोले हैं, ताकि इस सेवा से जुड़े यात्री जो एक दिन के अंतराल पर अपने कार्यालय जा रहे हैं। उन्हें टिकट लेने में सुविधा हो सके। इन 10 दिनों के दौरान टिकट काउंटर से करीब 2 लाख 28 हजार 624 यात्रियों ने सिंगल जर्नी टिकट लेकर सफर किया।

कुल कमाई
मुंबई के उपनगरीय मार्ग पर 15 जून से शुरू हुई लोकल सेवा से अब तक रेलवे को करीब 1 करोड़ 85 लाख रुपए की कमाई हुई है। ये कमाई 15 जून से 24 जून तक की है।

मरे और परे में विगत 10 दिनों में हुई
कमाई, यात्री और टिकट बिक्री का आंकड़ा

पश्चिम रेलवे
टिकट बिक्री – 85,242
यात्री सफर – 4,47,127
कमाई – ₹60,10,000/-

मध्य रेलवे
टिकट बिक्री -1,43,382
यात्री सफर – 1,69,866
कमाई – ₹1,30,66,000/-