" /> 7,062 मजदूरों ने गांव जाने के लिए भरा ऑनलाइन आवेदन : डोंबिवली से 60 लोगों को लेकर तीन बस भिवंडी के लिए रवाना

7,062 मजदूरों ने गांव जाने के लिए भरा ऑनलाइन आवेदन : डोंबिवली से 60 लोगों को लेकर तीन बस भिवंडी के लिए रवाना

लॉकडाउन के कारण मुंबई में फंसे हुए लोग अपने गांव जाने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहे हैं। कुछ लोगों को सरकार ने गांव भेज भी दिया है। परिमंडल-3 के पुलिस उपायुक्त विवेक पानसरे ने बताया कि अब तक कल्याण-डोंबिवली क्षेत्र में कुल 7 हजार 62 मजदूरों का निवेदन मिला है, जो कि अलग-अलग राज्यों के हैं।
सोमवार को डोंबिवली से तीन बसों में 60 लोग सवार होकर भिवंडी गए, वहां से ट्रेन पकड़कर राजस्थान के लिए रवाना होंगे। गांव जाने के लिए भिवंडी और नासिक से ट्रेन छूटने के बाद कल्याण-डोंबिवली क्षेत्र में परप्रांतीय श्रमिक कामगारों के जाने के लिए लंबी लाइन लगी हुई है। बताया जाता है कि कल्याण-पश्चिम में पूर्व विधायक नरेंद्र पवार, कल्याण-पूर्व में नगरसेवक राजाराम पावशे, पूर्व उपमहापौर विक्की तरे,  शैलेश तिवारी, शरद पाटील, संदीप जाधव, मोरेश्वर भोईर द्वारा फॉर्म जमा किए जा रहे हैं। फॉर्म जमा करने के बाद वे लोग स्थानीय पुलिस थाने में जमा कर रहे हैं। मेडिकल सर्टिफिकेट और फॉर्म जमा करने के लिए कल्याण में लंबी कतारें लगती दिखाई पड़ रही हैं। पुलिस उपायुक्त विवेक पानसरे ने बताया कि ऑनलाइन के माध्यम से जो मजदूरों के निवेदन मिले हैं, उनमें मध्य प्रदेश 210, उत्तर प्रदेश 3,145, झारखंड 1,725, गुजरात 100, राजस्थान 88, तेलंगाना 222, ओडिशा 12, बिहार 766, कर्नाटक 300, पश्चिम बंगाल 481 तथा अन्य राज्यों से 13 लोगों के आवेदन प्राप्त हुए हैं। इस तरह अब तक 7 हजार 62 लोगों के आवेदन आ चुके हैं। फिलहाल मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान और बिहार के लिए ट्रेनें चलाई जा रही हैं। उन्होंने बताया कि सोमवार को डोंबिवली से तीन बसें भिवंडी के लिए छोड़ी गईं, जिनमें 60 यात्री सवार थे। ये सभी यात्री भिवंडी से ट्रेन पकड़कर राजस्थान जाएंगे।