" /> अंधविश्वास में डगमगाई ममता!

अंधविश्वास में डगमगाई ममता!

♦ मां ने दो बच्चों को मारा पति को भी किया घायल
♦ पति-पत्नी में हुआ था विवाद मानसिक रूप से विक्षिप्त है महिला

यूपी के बरेली जिले में एक मां ने अंधविश्वास और घरेलू कलह के चलते अपने दो जिगर के टुकड़ों को बेरहमी से मार डाला। दोनों मासूम को बचाने पहुंचे पिता पर भी महिला ने प्रहार कर दिया। पत्नी के प्रहार से पिता बुरी तरह घायल हो गया है। दोनों मासूम की हत्या से क्षेत्र में सनसनी पैâल गई। महिला मानसिक रूप से विक्षिप्त भी बताई जा रही है। पुलिस ने दोनों बच्चों के शव को कब्जे में ले लिया है। महिला की इस हरकत से क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में महिला ने बताया कि रात को उसके सपने में मां काली आई थी। मां काली ने उसे दो बच्चों की बलि देने के लिए कहा था, जिसके बाद उसकी ममता डगमगा गई और उसने इस वारदात को अंजाम दिया।

मिली जानकारी के अनुसार महिला ने बिस्तर पर लेटी एक साल की मासूम बेटी और दो साल के बेटे को फरसे से काट डाला। इसकी भनक लगने ही पिता बच्चों को बचाने दौड़े लेकिन उस पर भी महिला ने हमला कर दिया। महिला के हमले में पति भी गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू की है। दोनों बच्चों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए। महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। महिला मानसिक रूप से विक्षिप्त भी बताई जा रही है।
स्थानीय लोगों के अनुसार फरीदपुर के भुता इलाके की मटकापुर गांव के रहने वाले संटू (बदला हुआ नाम) का पत्नी देवी (बदला हुआ नाम) से कई महीनों से घरेलू विवाद चल रहा था। बीती रात दोनों में जमकर विवाद हुआ था, जिसके बाद महिला बौखला गई। पति का गुस्सा निकालने के लिए महिला ने अपने ही बेटे और बेटी को निशाना बना डाला।