" /> धारावी पैटर्न की वैश्विक स्तर पर पुन: चर्चा, विश्व स्वास्थ्य संगठन के बाद ‘वाशिंगटन पोस्ट’ द्वारा धारावी पैटर्न की प्रशंसा

धारावी पैटर्न की वैश्विक स्तर पर पुन: चर्चा, विश्व स्वास्थ्य संगठन के बाद ‘वाशिंगटन पोस्ट’ द्वारा धारावी पैटर्न की प्रशंसा

एशिया की सबसे बड़ी झोपड़पट्टी के रूप में जानी जानेवाली धारावी वर्तमान में वैश्विक स्तर पर लोगों का ध्यान आकर्षित कर रही है। कोरोना के तेजी से प्रसार के कारण धारावी में स्थिति चिंताजनक थी। इसके बावजूद मुंबई मनपा ने वहां विशेष प्रयास किए और कोरोना पर नियंत्रण प्राप्त किया। इस कारण धारावी पैटर्न को सभी द्वारा सराहा जा रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा धारावी मॉडल की प्रशंसा के बाद, अब ‘वाशिंगटन पोस्ट’ ने भी धारावी पैटर्न पर ध्यान आकर्षित किया है। अमेरिका के अखबार ‘वाशिंगटन पोस्ट’ ने धारावी में कोरोना की स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए मुंबई मनपा द्वारा किए गए प्रयासों की प्रशंसा की है। ‘वाशिंगटन पोस्ट’ ने शुक्रवार, ३१ जुलाई को धारावी पैटर्न पर आधारित एक लेख प्रकाशित किया, ‘वैâसे मुंबई में एशिया की सबसे घनी बस्ती धारावी ने कोरोना वायरस को हरा दिया, जबकि भारत के अन्य भागों में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं।’
लेख में कहा गया है कि ‘धारावी में कोरोना के खिलाफ लड़ाई कई घनी आबादीवाले पड़ोसियों के साथ-साथ विशेष रूप से विकसित देशों के लिए एक महत्वपूर्ण सबक है। सिर पर कोरोना संकट के बावजूद धारावी संकट के दौरान मनपा द्वारा किए गए उपाय योजना, सामुदायिक भागीदारी और दृढ़ता उल्लेखनीय है’ ऐसा लेख में कहा गया है। राज्य सरकार ने मुंबई में कोरोना की परिस्थिति पर नियंत्रण लाने की जिम्मेदारी मनपा आयुक्त इक्बाल सिंह चहल को सौंपी है। धारावी में सफलतापूर्वक किए काम व कर्मचारियों की मेहनत के कारण कोरोना को बाहर कर दिया गया। इससे पहले पिछले महीने, विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा धारावी मॉडल की प्रशंसा की गई थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख, टेड्रोस एडहानोम गेब्रेयेसुस ने कहा था कि ‘केवल राष्ट्रीय एकता और वैश्विक एकता से इस संक्रमण पर रोक लग सकती है। दुनिया में कई उदाहरण हैं कि महामारी अत्यंत गंभीर अवस्था में हो, फिर भी नियंत्रित किया जा सकता है। इटली, स्पेन, दक्षिण कोरिया और धारावी (मुंबई) जो सबसे अधिक आबादी वाले हिस्से हैं, इसके कुछ उदाहरण हैं। हर किसी को शामिल करना, परीक्षण करना, रोगियों का पता लगाना, उन्हें अलग आइसोलेशन करके संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने जैसे कार्य कोरोना जीतने के लिए महत्वपूर्ण है।’