" /> अयोध्या हो गया अनलॉक!, जमा हुआ है प्रशासन का मजमा

अयोध्या हो गया अनलॉक!, जमा हुआ है प्रशासन का मजमा

देश में कोरोना वायरस के संक्रमण का दौर चल रहा है। इसके लिए गत मार्च महीने के आखिरी सप्ताह से ही देश में लॉकडाउन लगा हुआ है। हालांकि जहां संक्रमण कम है, वहां पर फेजवाइज अनलॉक का सिलसिला भी शुरू हो गया है। फिलहाल तीसरे फेज के अनलॉक की घोषणा हो चुकी है। अब चार दिनों बाद आगामी ५ अगस्त को अयोध्या में राम जन्मभूमि परिसर में शिलान्यास होना है। इस मौके पर स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां आ रहे हैं और उनके हाथों से ये भूमिपूजन होगा। अयोध्या चूंकि एक संवेदनशील नगरी है और स्वयं पीएम यहां पधार रहे हैं इसलिए यहां की सुरक्षा व्यवस्था की काफी कड़ी तैयारी की जा रही है। हालांकि इस पावन मौके पर २०० अति विशिष्ट अतिथियों को ही बुलाया गया है मगर यहां इनकी सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भारी संख्या में सरकारी अधिकारी व सुरक्षाकर्मी पहुंच गए हैं और नगर के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी नजर आने लगे हैं। ऐसे में इस संक्रमण काल में इस शहर के वर्तमान मिजाज को देखकर कहा जा सकता है कि अयोध्या ‘अनलॉक’ हो गया है और यहां प्रशासन का मजमा जमा हुआ है।

बता दें कि आतंकी खतरों के बीच प्रधानमंत्री मोदी के आगमन के चलते अयोध्या को हर तरफ से सील करने का आदेश दिया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस समय बाहर से करीब ५,००० सुरक्षाकर्मी व अधिकारी शहर में आ चुके हैं। इसके लिए अयोध्या समेत पैâजाबाद शहर में प्रवेश के सभी मार्गों पर पूर्व में किए इंतजामों की मॉनिटरिंग की जा रही है।

पीएम की सुरक्षा में लगी एसपीजी की टीम अयोध्या पहुंच गई है। एसपीजी की टीम को शहर के एक होटल में ठहराया गया है। इस बीच कल मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी, पुलिस महानिदेशक जितेंद्र अवस्थी, अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी के साथ ही कई उच्च अधिकारियों ने पीएम के आगमन को लेकर संबंधित स्थलों का निरीक्षण किया व आवश्यक दिशा निर्देश दिए। अयोध्या के चारो ओर पैरामिलिट्री फोर्स और ऊपर से हवा में ड्रोन वैâमरे चले हैं। इस बार हेलीकॉप्टर से वायु मार्ग पर मुस्तैदी की जाने की सूचना मिल रही है। मुख्य कार्यक्रम की पूर्व संध्या से किसी को भी अयोध्या में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। वहीं लखनऊ के रास्ते सड़क से आनेवाले वीवीआईपी को सहादतगंज से अयोध्या में प्रवेश देने की योजना बनाई जा रही है। साथ ही अयोध्या जिले के पड़ोसी जनपद बस्ती, गोंडा, अंबेडकरनगर, बाराबंकी, सुलतानपुर, अमेठी आदि में पूर्व में ही नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की जा चुकी है। इनके नेतृत्व में इन जनपदों की पुलिस बॉर्डर पर कड़ी निगरानी रख रही है। वहीं जल मार्गों पर भी कड़ी निगरानी रखने के लिए पीएसी, जल पुलिस की तैनाती की जा रही है। अयोध्या के सभी छोटे-बड़े प्रवेश मार्गों पर बैरियर लगा दिए गए हैं। चार अगस्त की शाम से अयोध्या में प्रवेश प्रतिबंधित किया जा सकता है। अयोध्या में प्रवेश के प्रमुख रास्ते जालपा देवी चौराहा, मोहबरा बाईपास, बूथ नंबर चार, रामघाट, साकेत पेट्रोल पंप, बंधा तिराहा, हनुमान गुफा समेत अन्य छोटे रास्तों को बैरीकेडिंग लगाकर सील करने की तैयारी है। इस बीच पुलिस उपमहानिरीक्षक/एसएसपी, अयोध्या दीपक कुमार ने अयोध्या में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव/नियंत्रण व आगामी त्योहार के दृष्टिगत जनपद अयोध्या में शांति व सुरक्षा-व्यवस्था दृष्टिगत थाना कोतवाली अयोध्या व राम जन्मभूमि में पुलिस बल के साथ पैदल गश्त करते हुए सुरक्षा व्ययवस्था का जायजा लिया। साथ में पुलिस अधीक्षक नगर, विजयपाल सिंह, क्षेत्राधिकारी, अयोध्या अमर सिंह मय फोर्स मौजूद रहे।