" /> बप्पा की जय-जयकार मंडल हैं तैयार, मुंबई में २,१००, ठाणे में ६७८ मंडल करेंगे स्वागत

बप्पा की जय-जयकार मंडल हैं तैयार, मुंबई में २,१००, ठाणे में ६७८ मंडल करेंगे स्वागत

आज से गणेशोत्सव की शुरुआत हो गई है। बप्पा की जय-जयकार के लिए मंडल पूरी तरह तैयार हो गए हैं। मुंबई में २,१०० और ठाणे में ६७८ मंडलों को गणेशोत्सव मनाने की अनुमति मिल गई है।
बता दें कि मुंबई में करीब १२ हजार सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडल हैं, जिनमें से २,७०० मंडल सड़क और खुले स्थान पर मंडप बनाकर गणेशोत्सव मनाते हैं। इसके अलावा लाखों की संख्या में घरेलू गणपति स्थापित की जाती है। इस वर्ष कोरोना महामारी के चलते कई मंडलों ने गणेशोत्सव न मनाने का निर्णय लिया है, जिनमें कई बड़े मंडलों का भी समावेश है। इसी के चलते इस वर्ष अनुमति के लिए कम आवेदन आने की बात मनपा प्रशासन ने कही है। इसके अलावा कुछ मंडलों ने ११ दिन की बजाय कम दिनों की मूर्ति स्थापित करने का निर्णय लिया है। इसी तरह ठाणे पुलिस आयुक्तालय अंतर्गत कुल ५ परिमंडल हैं। इनमें ठाणे, भिवंडी, कल्याण, बदलापुर व उल्हासनगर का समावेश है। इन शहरों में कुल १,११५ सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडल हैं, जो प्रतिवर्ष ब़ड़ी धूमधाम से गणेशोत्सव मनाते हैं। कोरोना की पार्श्वभूमि पर यहां भी कुछ मंडलों ने इस बार गणेशोत्सव न मनाने का पैâसला लिया है इसलिए यहां भी अनुमति के लिए कम आवेदन आए हैं। ठाणे पुलिस आयुक्तालय अंतर्गत ३५ पुलिस स्टेशनों में कुल ९०९ सार्वजनिक मंडलों में से ७३२ मंडलों ने एनओसी के लिए आवेदन किया था। इनमें से ६७८ मंडलों को एनओसी दी गई है।
भीड़ को टालें, स्वास्थ्य उपक्रम करें
इस वर्ष कोरोना को देखते हुए मुंबई में शोभा यात्रा निकालने और विसर्जन स्थलों पर आरती करने पर प्रतिबंध रहने की बात मनपा ने पहले ही स्पष्ट कर दी है। मूर्ति विसर्जन के लिए ३०० कृत्रिम तालाब बनाए गए हैं। मनपा द्वारा की गई व्यवस्था के अनुसार डेढ़ लाख से अधिक मूर्तियों का विसर्जन कृत्रिम तालाबों में होगा। मूर्ति विसर्जन समुद्र, तालाब की बजाय कृत्रिम तालाबों में करें, ऐसा आह्वान मनपा ने किया है। इस दौरान मंडप में निर्जंतुकीकरण, स्क्रीनिंग व्यवस्था, सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का इस्तेमाल, आरती, भजन-कीर्तन के समय भीड़ न करने की अपील भी मनपा ने की है। गणेशोत्सव के दौरान ज्यादा से ज्यादा स्वास्थ्य उपक्रम करने का आह्वान मनपा ने किया है।
बप्पा लेने घर आएंगे वाहन
मूर्ति विसर्जन के लिए मनपा वाहन सोसायटी गेट पर ही भक्तों से बप्पा की मूर्ति स्वीकार करेगी। इसके साथ ही मोबाइल कृत्रिम तालाब में सोसायटी की गेट पर ही मूर्ति का विसर्जन किया जा सकेगा।