दीदी के वर्करों की दादागिरी, भाजपा प्रत्याशी को बनाया बंधक

पश्चिम मिदनापुर के घाटाल में भाजपा प्रत्याशी भारती घोष पर हमला होने की खबर है। इस घटना में कई और लोगों के भी घायल होने की जानकारी मिली है। जिसके मुताबिक देर रात भारती घोष को बदमाशों ने घेर लिया था। इसके बाद खबर मिलते ही भारी संख्या में पुलिस बल घटनास्थल पर पहुंचा और भारती घोष को छुड़ाया। चुनाव होने के सिर्फ एक दिन के अंतराल में दासपुर थाना के बैकंठपुर निर्मज्ञ मठ में भाजपा प्रत्याशी भारती घोष एक बैठक कर रही थीं,  इसी दौरान उन पर हमला कर दिया गया। आरोप है कि भारती घोष को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बंधक बनाया था। रात को जब भारती घोष करीब 30 लोगों के साथ बैठक में व्यस्त थीं, तब मठ का गेट तोड़कर बदमाशों का एक दल घुस आया और भाजपा समर्थकों पर हमला बोल दिया। इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर लड़ाई हुई और एक दूसरे के ऊपर ईंटें भी फेंकी गईं। इस घटना में दोनों पक्षों के सदस्य घायल हुए हैं। घायलों को दासपुर अस्पताल में ले जाया गया है। आरोप है कि हमला करने वाले तृणमूल कांग्रेस से संबद्ध हैं। इस घटना के संबंध में लोगों का कहना है कि दीदी के वर्करों की सरेआम दादागिरी राज्य में चल रही है।

स्थानीय सूत्रों के मुताबिक रात में घटना के दौरान करीब 200  तृणमूल कार्यकर्ताओं ने उस मठ को घेर कर रखा था जहां पर भारती घोष थीं। इसके बाद दासपुर थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंचीहै और भारती घोष को मुक्त कराई। इस माले में दोनों पक्षों से पुलिस ने 38 लोगों को हिरासत में लिया है।