" /> भाजपा की लाचारी उजागर… विधायक बचाने को करती है सरकार गिराने का दावा

भाजपा की लाचारी उजागर… विधायक बचाने को करती है सरकार गिराने का दावा

हमने जिस दिन शपथ ली थी, उस दिन से महाविकास आघाड़ी की सरकार को गिराने के बारे में सुना जा रहा है। वास्तव में विपक्ष को सरकार की स्थिरता का अंदाजा है लेकिन देवेंद्र फडणवीस और अन्य नेताओं को हर तीन महीने में अपनी पार्टी के विधायकों को बचाए रखने के लिए यह कहना पड़ता है, ऐसा तंज कसते हुए जल संसाधन मंत्री और राकांपा के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटील ने भाजपा की पोल खोल दी।
पाटील संभाजीनगर विभाग स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में महाआघाड़ी के उम्मीदवार सतीश चव्हाण के चुनाव अभियान कार्यालय के उद्घाटन के अवसर पर बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि महाविकास आघाड़ी सरकार की आलोचना करते हुए भाजपा नेताओं द्वारा हमेशा सरकार की स्थिरता के बारे में बयान दिए जाते हैं। ये लोग कहते हैं कि यह सरकार ज्यादा दिन नहीं चलेगी। आंतरिक अंतर्विरोधों के कारण सरकार गिर जाएगी। जयंत पाटील ने कल विपक्ष की इन भविष्यवाणियों की जबरदस्त खबर ली। पाटील ने कहा कि नाथाभाऊ को ऐसे झूठे वादों के कारण पार्टी छोड़नी पड़ी। पाटील ने दावे के साथ कहा कि हमारी सरकार मजबूत है और विपक्ष में अंतर्कलह है। इसी बीच, महाविकास आघाड़ी उम्मीदवार अरुण लाड ने कल पुणे स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोरात और जयंत पाटील दोनों इस अवसर पर उपस्थित थे। दोनों नेताओं ने चंद्रकांत पाटील द्वारा सरकार के बारे में दिए गए बयान पर जमकर उनकी खिंचार्इं की।