प्रचार में दम सूरज हुआ मद्धम

मुंबई में २९ अप्रैल को मतदान होना है। ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियां जोर-शोर से अपने-अपने प्रत्याशियों के लिए रैली निकाल रही हैं। प्रचार में पूरा दम लगा दिया जा रहा है वहीं दूसरी ओर मुंबई का तापमान एक बार ३५ डिग्री पहुंचकर अब कम हो गया है। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो सूरज की तपिश अब मद्धम हो रही है। आगामी ५ से ६ दिनों तक मुंबईकरों को चिलचिलाती धूप से काफी हद तक राहत मिलेगी। भले ही सूर्य के तेवर में कमी आई हो लेकिन पार्टियों के प्रचार में दम देखने को मिल रहा है। एक के बाद एक रैली, रोड शो और सभाओं का आयोजन किया जा रहा है। प्रचार की गरमाहट कम होने का नाम ही नहीं ले रही है फिर चाहे नेता हो या पार्टी के कार्यकर्ता, सब अपनी ताकत प्रचार व प्रसार में झोंक रहे हैं।
बता दें कि मुंबईकरों के लिए राहतवाली खबर ये है कि तापमान अब थोड़े दिनों तक नहीं बढ़ेगा जबकि राज्य के अन्य हिस्सों में सूरज के तेवर कड़े होनेवाले हैं। क्षेत्रीय मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कल मुंबई शहर का अधिकतम तापमान ३४ डिग्री सेल्सियस जबकि उपनगर का ३३ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। स्काय मेट प्रमुख मेट्रोलॉजिस्ट महेश पलावत ने बताया कि मुंबई के तापमान में आगामी ५ से ६ दिनों तक कोई बढ़ोत्तरी के संकेत नहीं दिख रहे हैं। पारा ३२ से ३३ डिग्री सेल्सियस के बीच बना रहेगा क्योंकि उत्तर-पूर्र्व से आनेवाली गर्म हवाएं कमजोर पड़ गई हैं और दूसरी ओर अरब सागर से आनेवाली हवाएं जल्दी सेट हो जा रही हैं जो तापमान को बढ़ने नहीं दे रही हैं। आंधी और बरसात के बाद मध्य महाराष्ट्र में एक बार फिर सूर्य अपना प्रकोप बरपाएंगे। यदि मुंबई के तापमान में बढ़त नहीं होती है तो चुनावी प्रचार करनेवाली पार्टियों और उसमें सहभागी होनेवाली आम जनता और कार्यकर्ताओं को काफी आराम रहेगा।