" /> हैंगिंग गार्डन से कैंप्स कॉर्नर, ३ महीने नो एंट्री! , भूस्खलन का साइड इफेक्ट

हैंगिंग गार्डन से कैंप्स कॉर्नर, ३ महीने नो एंट्री! , भूस्खलन का साइड इफेक्ट

मुंबई में पिछले ३ दिनों से भारी बारिश हो रही है। बारिश के कारण कल दक्षिण मुंबई में कई स्थानों पर पेड़ गिर गए। कांदिवली की तरह दक्षिण मुंबई के हैंगिंग गार्डन के पास गुरुवार को भूस्खलन की घटना घटी। परिणामस्वरूप, क्षेत्र की कुछ सड़कों को यातायात के लिए बंद कर दिया गया है।

बता दें कि गुरुवार को हैगिंग गार्डन के पास स्थित बी.जी. खेर रोड पर हैंगिंग गार्डन की बाउंड्री वॉल का कुछ हिस्सा ढह गया, जिससे सड़क अवरुद्ध हो गई। इससे कैंप्स कॉर्नर की ओर जानेवाली सड़क क्षतिग्रस्त हो गई और पानी की पाइप लाइन को भी नुकसान पहुंचा है। इसके अलावा ऊंचे टीले पर लगे लगभग १५ पेड़ भी उखड़ गए। इस नुकसान को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा दीवारों और सड़क की मरम्मत होने तक रास्ता बंद करने का निर्णय लिया है।

सड़क की मरम्मत के लिए हैंगिंग गार्डन से कैंप्स कॉर्नर ट्रैफिक सिग्नल तक की सड़क को ३ महीने के लिए बंद कर दिया गया है। इसके अलावा, कैंप्स कॉर्नर से पेडर रोड तक का ब्रिज भी एक या तीन दिनों के लिए बंद रहेगा। मनपा की मानें तो बाबुलनाथ से पेडर रोड के एक दिशा को जल्द ही आवागमन के लिए खोल दिया जाएगा। ट्रैफिक पुलिस ने कैंप्स कॉर्नर से चौपाटी तक पेडर रोड के दोनों किनारों पर यातायात बंद कर दिया है। भूस्खलन के कारण रिज रोड को भी बंद कर दिया गया है। दक्षिण मुंबई से महालक्ष्मी की ओर जानेवाले वाहनों को कैंप्स कॉर्नर फ्लाईओवर के नीचे से अब जाना होगा। उसके बाद, हाजी अली मार्ग से ताड़देव-नाना चौक-ओपेरा हाउस वाले रास्ते का उपयोग करना होगा। उत्तर दिशा की ओर जानेवाले वाहन चालक विल्सन कॉलेज के पास की सड़क का उपयोग करते हुए उन्हें आगे जाने के लिए नाना चौक-ताड़देव सर्कल-ताड़देव रोड-हाजी अली-ओपेरा हाउस के रास्ते का उपयोग करना होगा। वाहन चालकों का मार्गदर्शन करने के लिए ट्रैफिक पुलिस को तैनात किया गया है।