जीवनतंत्र : ऐसे करें श्राद्ध

 आयु: प्रजां धनं विद्यां स्वर्गं मोक्षं सुखानि च। प्रयच्छन्तु तथा राज्यं प्रीता नृणां पितामहा:।। (लघ्वाश्वलायन स्मृति २४/१०२) श्राद्ध के

Read more

मंगल चंडिका स्तोत्र पाठ से दांपत्य जीवन होगा सुखमय

  गुरु जी, मेरी राशि क्या है और भविष्य वैâसा होगा? -महिमा दुबे (जन्म-२६ अगस्त २००२, समय- प्रात: ८:१८, स्थान-

Read more

मंगल दोष निवारण के लिए  मंगल स्तोत्र का पाठ कराएं

गुरुजी बी.एस.सी .कर रही हूं मेरा आगे का भविष्य कैसा होगा ? -आकांक्षा तिवारी (जन्म- १२ अगस्त १९९९, समय दिन

Read more