" /> तलाश

घाव…दोहरा आघात!…. विधवा बनी फेसबुकिया फरेबी का शिकार

♦ तलाश रही थी भावनात्मक सहारा ♦ दोस्त बनकर आर्थिक आधार भी छीना कहते हैं जिंदगी महज चार दिन की

Read more

घर और घाट की कशमकश!… पति को छुड़वाकर प्रेमी ने काटी कन्नी

भटकने को मजबूर है बेबस शबीना पराई नारी को पाने की चाह स्त्री लंपट पुरुषों की फितरत होती है। विवाहित

Read more

टूटेगी फर्श, निकलेगी लाश!…मुंबई में दोहराई गई ‘दृष्यम’ की दास्तान

♦ दबंग को मिला दहशत का जवाब ♦ ससुरालवालों ने कत्ल कर घर में दफनाया बस्ती के जिस गुमशुदा गुंडे

Read more

गुलशन, गफलत और गोलियां!…पूर्व सूचना के बाद भी मारे गए थे कैसेट किंग

♦ आस्था के कारण ले लिया था आतंकियों से पंगा ♦  शिव मंदिर के बाहर मारी गई थी १६ गोलियां

Read more

घाव… बांझ!… मुश्किल हो जाती है संतानहीन महिला की जिंदगी

एक औरत की जिंदगी बहुत ही मुश्किलों से भरी होती है। उसे पग-पग पर त्याग करने के बावजूद बार-बार परीक्षा

Read more