" /> इस्लाम की बात

कट्टरता नहीं, विनम्रता है इस्लाम!, जिहाद, शरीयत और काफिर की गलत अभिव्यक्तियों ने बढ़ाई दूरियां

बदलाव प्रकृति का नियम है और जो इस बदलाव को स्वीकार नहीं करता, वह या तो पीछे छूट जाता है

Read more