" /> रोखठोक

मोहन डेलकर की दुखद खुदकुशी!

मोहन डेलकर सात बार लोकसभा चुनाव जीते थे। केंद्रशासित प्रदेश दादरा-नगर हवेली में उनका दबदबा था। एक साहसी जुझारू नेता,

Read more

मुंबई के भिखारियों का क्या करोगे?… पुलिस की मुहिम सफल हो!

मुंबई के भिखारियों के विरुद्ध पुलिस ने मुहिम शुरू की है। भीख मांगना कानूनन जुर्म है। दिल्ली उच्च न्यायालय ने

Read more

आंदोलन नहीं चाहिए, तो क्या चाहिए?…लोकतंत्र के वीरान रास्ते!

प्रधानमंत्री मोदी ने देश के आंदोलनों का मजाक उड़ाया है। आपातकाल से लेकर अयोध्या आंदोलन तक, महंगाई से कश्मीर में

Read more

गाजीपुर की दहकती युद्धभूमि पर जयहिंद बोलनेवाले हजारों देशद्रोही

दिल्ली की सीमा पर स्थित गाजीपुर में किसानों का आंदोलन भड़क उठा है। पूरी दुनिया से उन्हें समर्थन मिल रहा

Read more

पंजाब को अशांत न बनाएं!…. किसान आंदोलन में फूट क्यों?

दिल्ली में चल रहे किसानों के आंदोलन में फूट डाली जा रही है। दो संगठन आंदोलन से बाहर निकल गए।

Read more

औरंगजेब किसे प्रिय है?… ये बर्ताव ‘सेक्युलर’ नहीं!

हिंदुस्थान का संविधान ‘सेक्युलर’ है ही। इसलिए बाबर, औरंगजेब, शाइस्ता खान, ओवैसी आदि लोगों को सेक्युलर वैâसे माना जाए? औरंगजेब

Read more

‘सावित्रीजोती’ क्यों बुझी?… फुले दंपति का संघर्ष शुरू ही!

‘सत्यशोधक’ ज्योतिबा व सावित्री फुले पर बनाए गए धारावाहिक के लिए दर्शक नहीं हैं इसलिए ‘सावित्रीजोती’ बुझ गई। जिन्होंने हमें

Read more