" /> हे विट्ठल… महाराष्ट्र को कोरोना से मुक्त करो : विट्ठल के चरणों में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने की प्रार्थना

हे विट्ठल… महाराष्ट्र को कोरोना से मुक्त करो : विट्ठल के चरणों में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने की प्रार्थना

महाराष्ट्र सहित देश को कोरोना मुक्त बनाएं और मेरे बलीराजा (किसानो) को सुख, समाधान और समृद्धि दें, ऐसी प्रार्थना श्री विट्ठल के चरणों में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने की। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और सौ. रश्मि ठाकरे के हाथों महाराष्ट्र के आराध्य देव श्री विट्ठल-रुक्मिणी की कल बुधवार को भोर में आषाढ़ी एकादशी के निमित्त सरकारी महापूजा की गई। उसके बाद श्री विट्ठल-रुक्मिणी मंदिर समिति की ओर से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का सपत्नीक श्री विट्ठल-रुक्मिणी मंदिर समिति के कार्यकारी अध्यक्ष गहिनीनाथ महाराज औसेकर के हाथों सत्कार किया गया। इस अवसर पर सोलापुर जिले के पालकमंत्री दत्तात्रय भरणे, पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे, तेजस ठाकरे उपस्थित थे।

श्री विट्ठल-रुक्मिणी की सरकारी महापूजा भोर में 2 बजे शुरू हुई। आषाढ़ी एकादशी के निमित्त विट्ठल-रुक्मिणी की महापूजा वारकरी नगर जिला के वीणेकरी विट्ठल ज्ञानदेव बढे और सौ. अनुसूया बढे (मु. चिंचपुर-पांगुल, ता. पाथर्डी) इस दंपति के साथ मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उनकी पत्नी रश्मि ठाकरे ने की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना ने दुनिया, देश और महाराष्ट्र के लिए बहुत बड़ा संकट पैदा कर दिया है। कोरोना के इस संकट को जल्द-से-जल्द दूर करके महाराष्ट्र और पूरे देश को कोरोना मुक्त करें। राज्य के किसान, वारकरी और सभी विट्ठल भक्तों के प्रतिनिधि के रूप में मैं आषाढ़ी एकादशी माऊली का दर्शन करने आया हूं। बलीराजा को सुखी और राज्य के सभी नागरिकों की इच्छा-आकांक्षाओं को पूर्ण करने के लिए आप शक्ति दें, ऐसी मांग मुख्यमंत्री ठाकरे ने श्री विट्ठल के चरणों में की। पंढरपुर के विकास के लिए सर्वोपरि मदद की जाएगी। इसके लिए विकास योजना को मंजूरी दी जाएगी। इस संबंध में प्रस्ताव प्रस्तुत करें, ऐसा मुख्यमंत्री ने कहा।

कोरोना की पृष्ठभूमि पर स्वास्थ्य कारणों से भक्त और जनता पंढरपुर न आएं। श्री विट्ठल का नाम स्मरण और घर से पूजा करें, ऐसा आह्वान मुख्यमंत्री ने भक्तों से किया। सरकार द्वारा समय-समय पर किए गए आह्वान का प्रतिसाद देकर वारकारी समुदाय ने जो सहयोग दिया, उनके सहयोग के लिए मुख्यमंत्री ने धन्यवाद दिया। इस अवसर पर महापौर साधना भोसले द्वारा पंढरपुर नगर परिषद को 5 करोड़ रुपए के अनुदान का चेक सरकार की ओर से सौंपा गया। इस अवसर पर नगराध्यक्ष साधना भोसले, समिति के सदस्य ज्ञानेश्वर महाराज जलगावकर, संभाजी शिंदे, शिवाजीराव मोरे, माधवी निगडे, अतुलशास्त्री भगरे, शकुंतला नडगिरे, विभागीय आयुक्त डॉ. दीपक म्हैसेकर, अतिरिक्त आयुक्त राजेंद्र भोसले, पुलिस महानिरीक्षक सुहास वारके, पुलिस अधीक्षक मनोज पाटील, अतिरिक्त जिलाधिकारी संजीव जाधव, मंदिर समिति के कार्यकारी अधिकारी विट्ठल जोशी आदि उपस्थित थे।