" /> कंटेंट से फर्क नहीं पड़ता अन्वेशी जैन

कंटेंट से फर्क नहीं पड़ता अन्वेशी जैन

बॉलीवुड इंडस्ट्री में पैर जमाने के लिए युवाओं को काफी संघर्ष करना पड़ता है। लेकिन उन्हीं में से कुछ ऐसे भी होते हैं, जिनकी मेहनत के साथ उनकी किस्मत का साथ होता है जिससे जल्द ही वो चर्चा में आ जाते हैं। ऐसे ही वेब सीरीज `गंदीबात’ सीजन टू से फिल्मी गलियारे में रातों-रात चर्चा में आई अदाकारा अन्वेशी जैन इस बार `जुगनू’ वीडियो एलबम से धमाल मचा रही हैं। प्रस्तुत है अभिनेत्री अन्वेशी जैन से सोमप्रकाश `शिवम’ की हुई बातचीत के प्रमुख अंश।

इन दिनों आपका वीडियो सॉन्ग जुगनू दर्शकों को काफी लुभा रहा है, आप क्या कहना चाहेंगी?
लॉकडाउन के समय में ही हमने इसे अपने दर्शकों के लिए तैयार कर रखा था। वैसे हमारा यह प्रयास काफी समय से था कि हम अपने दर्शकों के लिए एक बेहतरीन गाना बनाएं। आज सभी का बेशुमार प्यार मिल रहा है, इसके लिए मैं सभी की शुक्रगुजार हूं।

वेब सीरीज `गंदीबात’ में काम करने से पूर्व आप कहां थी और क्या कर रही थीं?
-मैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के उपरांत फिल्मों में करियर बनाने के लिए एंकरिंग करने लगी थी। इसी दौरान ऑडिशन देने लगी और अपनी मेहनत के बलबूते आज यहां तक सफर तय कर पाई हूं।

पहली बार में ही बोल्ड कंटेंट में काम करने के प्रति आपकी कोई खास वजह?
मैं एक कलाकार हूं, बस किरदार को बखूबी निभाना मेरी जिम्मेदारी है। कंटेंट बोल्ड हो या साधारण फर्क नहीं पड़ता। एक बड़े बैनर तले ब्रेक के साथ ही मुझे दमदार किरदार मिला। ये मेरी किस्मत थी बस और कोई वजह नहीं थी।

अब डिजिटल प्लेटफॉर्म से निकलकर सिनेमा के बड़े पर्दे पर आप कब दस्तक देंगी?
फिलहाल मैं लगातार वेब सीरीज कर रही हूं। आगे साउथ सिनेमा की ओर भी रुख करने की तैयारी है। हालांकि हिंदी फिल्मों के लिए भी बातचीत चल रही है। यदि सब कुछ ‘ीक-‘ाक रहा तो जल्द ही बड़े पर्दे पर डेब्यू करूंंगी।

फिल्म जगत में आए दिन महिलाओं के साथ हो रहे दुर्व्यवहार की खबरों को आप किस तरह देखती हैं?
देखिए इस पर वैसे कोई खुलकर बोलना नहीं चाहता। मेरा मानना है कि आप अगर न्यूकमर हैं तो काम पाने के प्रति थोड़ी सावधानी बरतें। ऐसा कतई नहीं है कि कोई आपसे जबरदस्ती कर ले। बेहतर होगा ज्यादा लालच न पालें।