" /> २ हफ्तों में होगा कंट्रोल कोरोना!

२ हफ्तों में होगा कंट्रोल कोरोना!

वैश्विक महामारी कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए पूरी दुनिया संघर्ष कर रही है। कई देश वैक्सिन बनाने के बिल्कुल करीब होने का दावा कर रहे हैं। इसी बीच मुंबई सहित देश के दूसरे हिस्से में कोरोना पर कंट्रोल को लेकर मुंबई आईआईटी ने ऐसी रिपोर्ट बनाई है, जिससे पूरा देश खासकर मुंबईकर खुश हो जाएंगे। मुंबई आईआईटी की रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा हालात को देखते हुए मुंबई में दो हफ्तों में, महाराष्ट्र में दो महीनों में, दिल्ली एक, गुजरात ढाई और देश के अन्य राज्यों में भी दो से तीन महीनों में कोरोना पर नियंत्रण पाया जा सकेगा। लेविट्स मेट्रिक्स फॉर्म्युले का इस्तेमाल कर बनाई गई रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।
आईआईटी मुंबई की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण में अभी दो हफ्तों का और समय लगेगा। रिपोर्ट के मुताबिक देश के हालात भी जल्द बदलेंगे। कंप्यूटर साइंस विभाग के प्राध्यापक डॉ. भाष्करन रमण ने कोरोना पर नियंत्रण को लेकर यह रिपोर्ट तैयार की है। रिपोर्ट में लेविट्स मैट्रिक्स मैथमेटिकल फॉर्मूले का इस्तेमाल करके ग्राफिकल प्रेजेंटेशन तैयार किया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इसमें कोरोना संक्रमितों की संख्या, मृत्युदर और महामारी से मौतों की संख्या का इस्तेमाल करके देश के राज्यों में कोरोना पर नियंत्रण में लगनेवाले समय का अनुमान लगाया गया है। मुंबई की महापौर किशोरी पेडणेकर ने कहा कि मुंबई में रिकवरी रेट ७० फीसदी हो गई है और मृत्युदर भी कम हुआ है। यदि यह गति बरकरार रही तो आईआईटी की रिपोर्ट के अनुसार दो हफ्ते में मुंबई में कोरोना पर काबू पाया जा सकता है। इसके अलावा डॉ. भाष्करन रमण ने गणितीय आधार पर महाराष्ट्र समेत दूसरे राज्यों में भी कोरोना पर नियंत्रण का अनुमान लगाया है। रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना नियंत्रण में आ गया है। इसका मतलब ये नहीं कि कोरोना पूरी तरह से खत्म हो गया है। कोरोना की वजह से होनेवाली मृत्युदर में कमी आने और रिकवरी दर बढ़ने को आधार बनाते हुए ये रिपोर्ट पेश की गई है, जिसमें कोरोना नियंत्रण में आने का संभावित समय बताया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना के प्रति अगर हम सावधानी बरतेंगे तो कोरोना को हम निश्चित रूप से हरा सकते हैं।