" /> राज्य में 40 पुलिसकर्मी कोरोना के चपेट में : मुंबई में 15 पहुंचा आंकड़ा

राज्य में 40 पुलिसकर्मी कोरोना के चपेट में : मुंबई में 15 पहुंचा आंकड़ा

कोरोना संक्रमण से लोगों को बचानेवाले ही कोरोना का शिकार हो रहे हैं। डॉक्टर, नर्स एवं पुलिसकर्मी भी इस खतरनाक संक्रमण के चपेट में आ रहे हैं। ताजा आंकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र में अभी तक 40 पुलिसकर्मी इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं, वहीं मुंबई में यह आंकड़ा 15 तक पहुंच गया है। इसके बाद से ही पुलिसकर्मियों में भी दहशत का माहौल पैदा हो रहा है। इसके साथ ही राज्य में कोरोना के मामले 4,200 हो गए है जो किसी भी अन्य राज्य के मुकाबले सबसे अधिक है।

इस समय लोगों के बीच पुलिस ही दीवार बनकर खड़ी है, जो लॉकडाउन का पालन करवाने में जुटी हुई है। नाकाबंदी, गस्त लगाने के दौरान लोगों से इनका सामना होते रहता है, इसी वजह से इनमें भी कोरोना के लक्षण दिखने लगते हैं। पुलिसकर्मियों में संक्रमण बढ़ता देख उनके परिजन में डर का माहौल है। संक्रमण के मामले के बाद ही पुलिस कॉलोनी एवं पुलिस स्टेशन को सैनिटाइज करने का काम किया जा रहा है। 40 कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों में से 8 अधिकारी हैं, वहीं 32 कर्मचारी हैं। इन सभी के संपर्क में आए हुए अन्य लोगों का भी टेस्ट किया जा रहा है। मुंबई के खार, जुहू, बांगुर नगर और कुरार सहित अन्य पुलिस स्टेशनों में कोरोना के मामले सामने आए हैं। इसके बाद सभी पुलिस कॉलोनी को सैनिटाइज किया जा रहा है, जिससे पुलिस कॉलोनी में रहनेवाले पुलिस के परिजन भी दहशत में जी रहे हैं। इस खतरे को भांपते हुए कई पुलिसकर्मी 2 या 3 दिन बाद घर जा रहे हैं एवं जितना हो सके परिजनों से मिलना-जुलना कम कर रहे हैं। पुलिस कॉलोनी में कई संस्थाएं हरि सब्जियां पहुंचाने का काम कर रही हैं। एक बॉक्स में आलू, प्याज सहित अन्य सब्जियां को पैक करके भेजा जा रहा है। इस बॉक्स की कीमत 400 रुपए बताई जा रही है। इससे कॉलोनी में रहनेवाले लोगों को नीचे उतरने की जरूरत नहीं पड़ती।