" /> अब घर बैठे कोरोना जांच हुई बंद मनपा का निर्णय

अब घर बैठे कोरोना जांच हुई बंद मनपा का निर्णय

कोरोना संदिग्धों के लिए मनपा ने घर बैठे सैंपल कलेक्शन और जांच का ऑप्शन दिया था लेकिन अब उसे बंद कर दिया गया है। मनपा की मानें तो लोग घबराकर अनावश्यक ही जांच करवा रहे हैं इसलिए यह निर्णय लिया गया है।
बता दें कि कोरोना बीमारी की रोकथाम के लिए इंडियन कॉउन्सिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने निजी लैब को भी कोरोना टेस्टिंग की अनुमति दी है। मनपा ने इन निजी लैब को घर जाकर व्यक्ति के सैंपल कलेक्ट करने की अनुमति दी। यह सहूलियत इसलिए दी गई थी ताकि संदिग्ध घर से बाहर न निकले और अनजाने में बीमारी दूसरे में न फैलाए। कई लोगों ने घर बैठे टेस्टिंग भी करवाई लेकिन मनपा ने अब होम कलेक्शन न करने का आदेश सभी निजी लैब को दिया है। मुंबई में ऐसे 10 निजी लैब है जो होम कलेक्शन करते हैं। मनपा की उप कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दक्षा शाह ने बताया कि घर बैठे कलेक्शन को इसलिए बंद किया गया है क्योंकि जिन लोगों को लक्षण नहीं है वे भी अनावश्यक टेस्ट करवा रहे हैं। इसलिए घर बैठे टेस्टिंग को बंद कर दिया गया है। दक्षा शाह ने बताया कि यदि किसी को कोरोना जैसे लक्षण है तो उन्हें पहले फीवर क्लिनिक जाना होगा। वहां डॉक्टर तय करेंगे कि उन्हें टेस्ट की जरूरत है या नहीं। निजी डॉक्टर को भी कहा गया है कि यदि उन्हें मरीज में कोरोना के लक्षण दिखते है तो ही टेस्ट के लिए लिखें।