" /> 500 बेड के कोविड-19 अस्पताल का निर्माण कार्य अंतिम चरण में

500 बेड के कोविड-19 अस्पताल का निर्माण कार्य अंतिम चरण में

कोरोना संक्रमित मरीजों की सुविधा के लिए 500 बेड की क्षमतावाले अस्पताल के निर्माण का काम अंतिम चरण में है। कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने तथा संक्रमित मरीजों को समुचित इलाज उपलब्ध कराने में अंबरनाथ नगरपालिका प्रशासन दिन-रात एक किए हुए है। यह अस्पताल अंबरनाथ (पश्चिम) स्थित स्थानीय के.बी. रोड, जांभुल फाटा के पास चिखलौली स्थित डेंटल कॉलेज में बनाया गया है। कोरोना के बढ़ते प्रकोप को स्थानीय स्तर पर रोकने के लिए सांसद श्रीकांत शिंदे, विधायक डॉ. बालाजी किणीकर, तत्कालीन नपा अध्यक्ष मनीषा अरविंद वालेकर आदि ने अपने स्तर पर शहर में कोविड अस्पताल बनाने का प्रयास किया। कड़ी मेहनत व जिले के पालकमंत्री एकनाथ शिंदे के विशेष सहयोग से यह अस्पताल बनना संभव हो सका। बता दें कि यह अस्पताल अगले दो-तीन दिनों में मरीजों के लिए तैयार हो जाएगा। अस्पताल के काम की मौजूदा स्थिति जानने के लिए पालकमंत्री एकनाथ शिंदे और सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे ने कोविड अस्पताल का दौरा किया और इस अस्पताल की सराहना की। इस अवसर पर विधायक डॉ. बालाजी किणीकर, नपा के प्रशासक जगतसिंह गिरासे, मुख्याधिकारी श्रीधर पाटणकर, शहर प्रमुख अरविंद वालेकर, पूर्व नपा अध्यक्ष सुनील चौधरी आदि लोग उपस्थित थे।