" /> मेंटॉर माही पर ‘दादा’ का खुलासा

मेंटॉर माही पर ‘दादा’ का खुलासा

बीसीसीआई चयनकर्ताओं ने हाल ही में टी-२० विश्वकप के लिए हिंदुस्थानी टीम का एलान किया। इस वर्ल्डकप टीम में पूर्व कप्तान एमएस धोनी को मेंटॉर के तौर पर वापसी हुई। माही के मेंटॉर बनने के बाद विवाद खड़ा हो गया है। अब इस मामले पर पूर्व कप्तान और वर्तमान बीसीसीआर्ई अध्यक्ष सौरव गांगुली यानी दादा ने खुलासा किया है कि धोनी की टीम का मेंटॉर बनाने का निर्णय क्यों लिया गया? गांगुली ने कहा है कि यह सिर्फ विश्वकप में टीम की मदद करने के लिए है। माही का टी-२० रिकॉर्ड हिंदुस्थान और चेन्नई सुपर किंग्स के लिए शानदार है। इसके पीछे काफी सोच विचार किया गया है। हिंदुस्थान ने करीब आठ वर्षों से कई आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत पाया है। देश ने साल २०१३ में अंतिम बार आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में जीती थी। इसके बाद धोनी दुनिया के पहले कप्तान बने थे, जिन्होंने २० ओवर का विश्वकप, ५० ओवर का विश्वकप जीतने के अलावा चैंपियंस ट्रॉफी भी जीती। गांगुली ने धोनी की नियुक्ति की तुलना २०१९ विश्वकप के दौरान ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ स्टीव वॉ की समान भूमिका से करते हुए कहा कि माही का विशाल क्रिकेट ज्ञान और अनुभव टीम की मदद करने का वादा करता है। बीसीसीआई प्रमुख ने आगे कहा कि याद रखें कि ऑस्ट्रेलिया में स्टीव वॉ भी इसी तरह की भूमिका में थे, जब उन्होंने पिछली बार इंग्लैंड में एशेज २-२ से ड्रॉ किया था।